छुट्टी पर लौटे आइटीबीपी जवान का ई-रिक्शा चालक ने सिर फोड़ा, लोहे की राड से किया हमला

 

आईटीबीपी जवान को लोहे की राड मारकर जख्मी किया।
भारत-चीन सीमा पर तैनात आईटीबीपी जवान को पत्नी से अभद्रता का विरोध करना भारी पड़ गया। कालिंदी कुंज इलाके में छेड़खानी का विरोध करने पर ई-रिक्शा चालक जवान को अपने साथियों संग घेर लिया और बीच सड़क पर लोहे की राड मारकर जख्मी कर दिया।

नई दिल्ली ,संवाददाता। भारत-चीन सीमा पर तैनात आईटीबीपी जवान को पत्नी से अभद्रता का विरोध करना भारी पड़ गया। कालिंदी कुंज इलाके में छेड़खानी का विरोध करने पर ई-रिक्शा चालक जवान को अपने साथियों संग घेर लिया और बीच सड़क पर बेरहमी से लोहे की राड मारकर जख्मी कर दिया। हालांकि घायल होने के बाद भी पीड़ित जवान ने भाग रहे एक आरोपित को मौके पर ही दबोच लिया। घटना बुधवार की शाम की है। घटना के बाद जवान को एम्स ट्रामा सेंटर ले जाया गया जहां इलाज के बाद उसे छुट्टी दे दी गई है।जानकारी के अनुसार 29 वर्षीय गरूण सिंह आइटीबीपी में बतौर सिपाही कार्यरत हैं और अरुणांचल प्रदेश में तैनात हैं। वह फरीदाबाद के अजय नगर इलाके में अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ रहते हैं। वह 8 माह बाद छुट्टी लेकर अपने परिवार से मिलने कुछ दिनों पहले ही आया था। उन्होने बताया कि तीन दिन पहले वह अपनी पत्नी और बच्चों को लेकर कालिंदी कुंज इलाके में जा रहा था।

जब एक ई-रिक्शा चालक ने उसकी पत्नी के साथ अभद्रता की थी। जब गरूण ने विरोध किया तो वह गाली-गलौज करते हुए धमकी देने लगा। हालांकि तब उसकी पत्नी ने ही उसे शांत कराकर घर ले गई। इसी बीच बुधवार की दोपहर को गरूण फल खरीदने के लिए खड्डा कालोनी मार्केट पहुंचे, जहां उक्त ई-रिक्शा चालक ने अपने साथियों के साथ उसे घेर लिया।

फिर धमकी देते हुए अचानक से ही उसके साथ मारपीट शुरू कर दी और लोहे के राड से सिर पर हमला कर दिया। हमले से पीड़ित का सिर बुरी तरह से फट गया और वह खून से लथपथ हो गया। हालांकि फिर भी उसने एक आरोपित को दबोच लिया। इसी बीच पास में मौजूद एक पुलिसकर्मी भी वहां पहुंचा और आरोपित को हिरासत में ले लिया।