उच्च हिमालयी दारमा घाटी से ग्यारह पर्यटक सहित बीस लोगों को पहुंचाया रेस्‍क्‍यू कर धारचूला पहुंचाया

 

उच्च हिमालयी दारमा से ग्यारह पर्यटक सहित बीस लोगों को पहुंचाया रेस्‍क्‍यू कर धारचूला पहुंचाया
उच्च हिमालय में फंसे पर्यटकों को हेलीकॉप्टर से निकालने का काम चौथे दिन भी जारी रहा। रविवार को सुबह से लेकर अपरान्ह तक मौसम अनुकूल रहने के कारण वायु सेना के एएसएल हेलीकॉप्टर से दारमा घाटी से 11 पर्यटकों सहित कुल बीस लोगों को धारचूला पहुंचाया गया।

संवाद सूत्र, धारचूला : उच्च हिमालय में फंसे पर्यटकों को हेलीकॉप्टर से निकालने का काम चौथे दिन भी जारी रहा। रविवार को सुबह से लेकर अपरान्ह तक मौसम अनुकूल रहने के कारण वायु सेना के एएसएल हेलीकॉप्टर से दारमा घाटी से 11 पर्यटकों सहित कुल बीस लोगों को धारचूला पहुंचाया गया। शनिवार को दोपहर के बाद उच्च हिमालय में मौसम खराब होने से रेस्क्यू कार्य नहीं चल सका। रविवार सुबह से उच्च हिमालय में मौसम साफ रहा। मौसम साफ रहने पर धारचूला के सेना हैलीपैड से हेलीकॉप्टर ने दारमा को उडान भरी । जिलाधिकारी के निर्देश पर दारमा घाटी के लिए हेलीकॉप्टर से दो सदस्यीय चिकित टीम दुग्तू गांव को भेजी। चिकित्सा टीम दारमा में शिविर लगा कर ग्रामीणों का उपचार करेगी। इसके अलावा चीन सीमा पर स्थित अग्रिम पोस्टों के लिए 15 क्विंटल राशन भी भेजा गया।

हेलीकाप्टर दारमा से 11 पर्यटकों, बीते दिनों बर्फ में दबकर मृतक ग्रामीणों के शवों का पंचनामा और पोस्टमार्टम करने गई टीम के चार सदस्यों, पांच स्थानीय लोगों को रेस्क्यू कर धारचूला लाई। बीते एक सप्ताह से उच्च हिमालय में फंसे देश के विभिन्न राज्यों के पर्यटक धारचूला पहुंचने पर खुश नजर आए। उन्होंने रेस्क्यू के लिए वायु सेना, सेना, राज्य सरकार और जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान का आभार जताया। पर्यटकों ने कहा कि बारिश के चलते मार्ग बंद होने से वह दारमा घाटी में थे परंतु उन्हें कहीं से भी फंसने जैसा अहसास नहीं हुआ। स्थानीय ग्रामीणों, सेना और प्रशासन द्वारा सारी व्यवस्थाएं की गई थी।

पर्यटकों के धारचूला पहुंचने पर धारचूला हैलीपैड में सेना की कुमाऊं स्काउट की 832 लाइट रेजीमेंट ने पर्यटकों को चाय और नाश्ता कराया। दूसरी तरफ ज्योलिंगकोंग में भी दो दर्जन से अधिक लोग हैं। गुंजी ज्योलिंगकोंग मार्ग बर्फ से पटा है। बीआरओ बर्फ हटा कर मार्ग खोल रही है। मार्ग खुलने के बाद ज्योलिंगकोग में फंसे लोग गुंजी पहुंच सकेंगे। बीआरओ के अनुसार ज्योलिंगकोंग में मौजूद सभी लोग सुरक्षित हैं और किसी तरह की परेशानी नहीं है। मार्ग खोलने का कार्य तेजी के साथ चल रहा है।

Popular posts
आमना शरीफ ने ब्लैक ब्रालेट पहन बीच पर 'बोल्ड' अंदाज में किया पोज, तस्वीरें देख ट्रोलर्स ने कहा, 'आप कहां की शरीफ है'
Image
रकुल प्रीत सिंह ने पहनी इतनी छोटी स्कर्ट, बैठते वक्त कैमरे में कैद हुआ Oops Moment, भड़के यूजर्स ने सिखाया बैठने का ढंग!
Image
सांसदों के हंगामे पर राज्‍यसभा के सभापति और लोकसभा अध्‍यक्ष ने की मुलाकात, कहा- दोषी सांसदों के खिलाफ होगी कार्रवाई
Image
सोनभद्र में भौंरों ने बकरी चराने गए बच्‍चों पर किया हमला, एक की मौत, आधा दर्जन गंभीर
Image
ब्रह्मास्त्र' के सेट पर दिखी आलिया और रणबीर कपूर की शानदार केमिस्ट्री, अयान मुखर्जी ने कही ये बात
Image