दस बिंदुओं में जानें- लखीमपुर खीरी मामलें में हुई राहुल गांधी की प्रेस कांफ्रेंस की कुछ खास बातें

 

लखीमपुर खीरी मामले में राहुल गांधी ने की प्रेस कांफ्रेंस
राहुल गांधी ने लखीमपुर खीरी मामले में केंद्र और राज्‍य सरकार पर कई आरोप लगाए हैं। उन्‍होंने ये भी कहा है कि वो इजाजत न मिलने के बाद भी वहां पर जाने की पूरी कोशिश करेंगे। उनके साथ दो सीएम भी वहां पर जाएंगे।

नई दिल्‍ली । राहुल गांधी ने एक प्रेस कांफ्रेंस के जरिए लखीमपुर खीरी मामले में केंद्र और राज्‍य सरकार पर निशाना साधा है। इस दौरान उन्‍होंने दोनों सरकारों पर आरोप लगाया कि वो आरोपियों को बचाने का काम कर रही हैं जबकि किसानों के हक की बात करने वालों को हिरासत में लिया जा रहा है। जानें प्रेस कांफ्रेंस के कुछ खास बिंदु:- 

  • मीडिया की ये जिम्‍मेदारी है कि वो इस मुद्दे को उठाए। लेकिन जब हम इस मुद्दे को उठाते है तब कहा जाता है कि हम राजनीति कर रहे हैं।
  • किसानों की हत्‍या की जा रही है। उनके ऊपर जीप चढ़ाकर उन्‍हें मारा गया, जिसमें केंद्रीय मंत्री और उनके बेटे का नाम सामने आया है। मंगलवार को प्रधानमंत्री लखनऊ में थे लेकिन वो लखीमपुर खीरी नहीं आए। ये एक चरणबद्ध तरीके से किसानों पर किया गया हमला है।
  • प्रियंका गांधी को किसानों के हक की आवाज उठाने की वजह से उन्‍हें हिरासत में रखा गया।
  • आज दो मुख्‍यमंत्रियों के साथ लखीमपुर खीरी जा रहा हूं। प्रशासन ने वहां पर धारा 144 लागू की है जो पांच लोगों को एक साथ रहने पर लागू होती है। इसलिए उन्‍हें मुझको नहीं रोकना चाहिए।
  • इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि पुलिस और प्रशासन हमारे साथ क्‍या सलूक करती है। हम किसानों के हक की बात उठाते रहेंगे, चाहे कुछ भी हो।
  • पहले भारत में लोकतंत्र का राज था लेकिन अब ऐसा नहीं है। विपक्षी नेता उत्‍तर प्रदेश नहीं जा सकते हैं। प्रियंका को भी किसानों की आवाज उठाने की वजह से गिरफ्तार किया गया।
  • हाथरस में भी जब हमनें सरकार पर दबाव बनाया तब भी हमारे खिलाफ कार्रवाई की गई थी। यदि वहां हम नहीं जाते तो अपराधी वहां से भाग जाते। राज्‍य सरकार हमें इस मुद्दे पर भी दूर रखना चाहती है।
  • उत्‍तर प्रदेश में अपराधी बेकाबू हो रहे हैं वो जो चाहते हैं करते हैं। राज्‍य में अपराधी बाहर होते हैं और पीडि़त अंदर होते हैं।
  • किसानों पर सरकार लगातार हमले कर रही है।
  • हर हाल में लखीमपुर जाने की करेंगे कोशिश।