इराकी बलों ने आइएस सरगना बगदादी के सहायक को पकड़ा, इराकी प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी

 

सामी आइएस का उप सरगना होने के साथ ही वित्त मामलों को भी देखता है
प्रधानमंत्री मुस्तफा ने कहा हमारे हीरो (इराकी सुरक्षा बलों) का ध्यान चुनाव कराने पर केंद्रित था उनके (गुप्तचरों) साथियों ने सामी को दबोचने के लिए जटिल अभियान चलाया। उन्होंने अभियान के बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी ।

दुबई, रायटर। इराक के सुरक्षा बलों को आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) के मारे जा चुके सरगना अबू बकर अल-बगदादी के करीबी सहायक सामी जसीम को पकड़ने में सफलता मिली है। सामी आइएस का उप सरगना होने के साथ ही वित्त मामलों को भी देखता है। इराकी प्रधानमंत्री मुस्तफा अल-कादिमी ने सोमवार को ट्वीट के जरिये आइएस आतंकी की गिरफ्तारी की जानकारी दी।

प्रधानमंत्री मुस्तफा ने कहा, 'हमारे हीरो (इराकी सुरक्षा बलों) का ध्यान चुनाव कराने पर केंद्रित था, उनके (गुप्तचरों) साथियों ने सामी को दबोचने के लिए जटिल अभियान चलाया।' उन्होंने अभियान के बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी।

वर्ष 2019 में अमेरिका के विशेष बल ने उत्तर पश्चिम सीरिया में बगदादी को मार गिराया था। अमेरिकी विदेश विभाग ने उस समय सामी समेत आइएस के बड़े आतंकियों के बारे में जानकारी देने पर पुरस्कार की घोषणा की थी।

जसीम जिसका पूरा नाम सामी जसीम मुहम्मद अल-जबुरी है, को हाजी हामिद के नाम से जाना जाता है। एफबीआइ ने उसे रिवॉर्ड्स फॉर जस्टिस वेबसाइट पर आइएसआइएस के पूर्ववर्ती संगठन, अल-कायदा इन इराक (AQI) का एक सदस्य के रूप में दिखाया है।

एफबीआइ के अनुसार 2014 में दक्षिणी मोसुल में आइएसआइएस डिप्टी के रूप में सेवा करते हुए, उसने आइएसआइएस के वित्त मंत्री के समकक्ष के रूप में कार्य किया। वह तेल, गैस और खनिजों की अवैध बिक्री से समूह के राजस्व-सृजन कार्यों की निगरानी का काम करता था। अमेरिकी ट्रेजरी ने उसे सितंबर 2015 में ब्लैक लिस्ट की सूची में रखा था।