जज के सामने हत्या की बात कबूलने वाले आरोपित निहंगों की सामने आई नई चाल

 

Singhu Border Murder Case: जज के सामने हत्या की बात कबूलने वाले आरोपित निहंगों की सामने आई नई चाल
पंजाब के युवक लखबीर सिंह की हत्या में आरोपित निहंग एसआइटी के समक्ष बार-बार बयान बदलकर कभी हां-कभी ना के फेर में उलझाए हैं। आरोपित निहंगों ने तो अपने ही साथियों को पहचानने से इनकार कर दिया है।

नई दिल्ली/सोनीपत, संवाददाता। दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बार्डर (कुंडली) बार्डर पर 15 अक्टूबर को पंजाब के दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या को लेकर अब भी कुछ साफ नहीं हुआ है। रिमांड में आरोपित निहंगों से पूछताछ करना सोनीपत पुलिस अधिकारियों के लिए सिरदर्द बना हुआ है। एडीजीपी से लेकर जांच अधिकारी (आइओ) तक उनसे पूछताछ कर रहे हैं, लेकिन  बेहद शातिर तरीके से आरोपित अपना रिमांड टाइम पूरा होने का इंतजार कर रहे हैं। वे एसआइटी के समक्ष बार-बार बयान बदलकर कभी हां-कभी ना के फेर में उलझाए हैं। आरोपित निहंगों ने तो अपने ही साथियों को पहचानने से इनकार कर दिया है। अब मुख्य आरोपित सरबजीत भी पुलिस को पहले दी गई जानकारी से पलट गया है। इसके चलते एसआइटी ने नया एक्शन प्लान तैयार किया है। इसके तहत बॉर्डर से अन्य जत्थों के निहंगों से वीडियो में दिख रहे आरोपितों की पहचान कराने का निर्णय लिया है।

गौरतलब है कि एसआइटी की दो टीम लखबीर की हत्या के आरोपित निहंग सरबजीत, नारायण सिंह, भगवंत सिंह और गोविंद सिंह प्रीत से पूछताछ कर रही हैं। एक सप्ताह के रिमांड में जरूरी जानकारी नहीं मिलने पर एसआइटी ने उनका दो दिन का अतिरिक्त रिमांड लिया है। वह सोमवार को पूरा हो रहा है। एसआइटी के अनुसार, जिन साथी निहंगों के साथ वे दस महीने से रुके हुए हैं, अब उनको ही पहचानने से इनकार कर रहे हैं। उनके नाम और पते अलग-अलग बता रहे हैं।

आरोपित निहंग हो गए हैं फरार

लखबीर की हत्या के बाद निहंगों ने खुद ही वीडियो वायरल किए थे। उनको उम्मीद नहीं थी कि यह पुलिस कार्रवाई का आधार बनेगा। वीडियो के आधार पर चार निहंगों के गिरफ्तार होने के बाद उनमें भगदड़ मच गई है। वीडियो में दिख रहे ज्यादातर निहंग कुंडली बॉर्डर से गायब हो गए हैं।

पुलिस ने वीडियो से तैयार कराए फोटो

एसआइटी ने वीडियो के आधार पर करीब 24-25 निहंगों को चिह्नित किया है। उनके फोटो निकलवाए गए हैं। उसके आधार पर पहचान कराने का प्रयास किया जा रहा है।