लखीमपुर खीरी की घटना का पूरे दिन दिल्ली-एनसीआर की सड़कों पर दिखा असर, रेंगते रहे वाहन

 


किसान की मौत के बाद दिल्ली-एनसीआर में भी ट्रैफिक बुरी तरह से प्रभावित रहा।
दिल्ली-एनसीआर में कुछ रास्ते ऐसे हैं कि यदि वहां पर सुबह के पीक आवर्स में जाम लग जाए तो पूरा दिन ही ट्रैफिक का बुरा हाल हो जाता है। दिल्ली और नोएडा के अन्य रास्तों पर इसी तरह से ट्रैफिक जाम के नजारे देखने को मिले।

नई दिल्ली, एएनआइ। लखीमपुर खीरी में किसान की मौत के बाद दिल्ली-एनसीआर में भी ट्रैफिक बुरी तरह से प्रभावित रहा। पूरे दिन दिल्ली-एनसीआर में वाहनों से आने-जाने वाले जाम में फंसे। सप्ताह का पहला दिन होने के नाते आम दिनों के मुकाबले सोमवार को अधिक ट्रैफिक देखने को मिलता है ऐसे में यदि किसी वजह से किसी व्यस्त रहने वाले मार्ग पर ट्रैफिक रूक जाए या सुरक्षा के लिएकोई जांच शुरू कर दी जाए तो वाहनों की लंबी कतार लग जाती है।

दिल्ली-एनसीआर में कुछ रास्ते ऐसे हैं कि यदि वहां पर सुबह के पीक आवर्स में जाम लग जाए तो पूरा दिन ही ट्रैफिक का बुरा हाल हो जाता है। सोमवार को कुछ ऐसा ही हाल सड़कों पर देखने को मिला। गाजीपुर बार्डर, दिल्ली-नोएडा एक्सप्रेस वे के अलावा दिल्ली और नोएडा के अन्य रास्तों पर इसी तरह से ट्रैफिक जाम के नजारे देखने को मिले। दरअसल पुलिस ने सुरक्षा के लिहाज से कई जगहों पर बैरिकेड लगा दिए थे, कई किसान नेता अपने घरों से निकलकर लखीमपुर खीरी जाना चाहते थे. इसके अलावा पुलिस ने सुरक्षा के मद्देनजर भी कुछ कदम उठाए थे। सुबह तो पुलिस काफी एलर्ट थी, जाम की खबर मिलने के बाद कई जगहों से बैरिकेड भी हटा लिए गए थे मगर उसके बाद भी ट्रैफिक सामान्य नहीं हो पाया। बैरिकेड होने की वजह से वाहन चालकों को वहां से निकलने में काफी समय लगा, एक बार जाम लग जाने के बाद उसे पूरे दिन सुधारा नहीं जा सक

ा।