दिल्ली के कल्याणपुरी में किराए पर कमरा लेने के बहाने बदमाशों ने लूटे गहने, मामला दर्ज

 

बदमाशों ने छात्र को घर में अकेला पाकर उसे बंधक बना लिया।

 इलाके में किराये पर कमरा लेने के बहाने दो बदमाश एक घर में घुस गए। बदमाशों ने छात्र को घर में अकेला पाकर उसे बंधक बना लिया। जानकारी के अनुसार दीक्षा अपने परिवार के साथ खिचड़ीपुर में रहती हैं। 23 अक्टूबर की शाम को वह घर में अकेली थी।

नई दिल्ली, संवाददाता। कल्याणपुरी इलाके में किराये पर कमरा लेने के बहाने दो बदमाश एक घर में घुस गए। बदमाशों ने छात्र को घर में अकेला पाकर उसे बंधक बना लिया। जानकारी के अनुसार दीक्षा अपने परिवार के साथ खिचड़ीपुर में रहती हैं। 23 अक्टूबर की शाम को वह घर में अकेली थी। उसी दौरान दो युवक घर पर आए और छात्र से उन्हें किराये पर कमरा चाहिए। छात्र ने उन्हें बताया कि अभी उनके माता-पिता घर पर नहीं है, वाट्सएप काल के जरिये छात्र ने एक युवक की बात अपने पिता से करवाई।

उसके बाद आरोपितों ने छात्र से पिता का नंबर एक पर्चे पर लिखकर देने के लिए कहा। छात्र के कमरे मे जाते ही पीछे से दोनों बदमाश कमरे में आ गए, एक बदमाश ने अपने हाथ से छात्र का मुंह दबा दिया। जबकि दूसरा बदमाश घर की तलाशी लेने लगा, बदमाश ने अलमारी का ताला तोड़ा और उसमें से गहने निकाल लिए। वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों बदमाश गहने लेकर फरार हो गए। वहीं एक अन्य मामले में भजनपुरा इलाके में पुलिस ने स्मैक के साथ चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इसमें से दो महिलाएं हैं।

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान फरदीन और मोहसीन के रूप में हुई है। चारों आरोपित वेलकम के जनता कालोनी के रहने वाले हैं। पुलिस ने इनके पास से 108 पैकेट स्मैक, 48 एविल इंजेक्शन और 61,500 रुपये बरामद किए हैं। जिला पुलिस उपायुक्त संजय कुमार सेन ने बताया कि भजनपुरा के एसीपी ए वेंकटेश वेलकम थाना पुलिस के साथ वेलकम क्षेत्र में गश्त कर रहे थे, तभी टीम ने देखा कुछ लोग घोषित बदमाश जमशेद के घर के पास स्मैक बेच रहे हैं, उसमें महिलाएं भी शामिल हैं। पुलिस को जांच में पता चला कि गिरफ्तार की गई एक महिला पर पहले से दो केस दर्ज हैं।