स्यूकुरो मानेबे, क्लाउस हैसलमैन और जियोर्जियो पेरिसी को मिला फिजिक्स के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार

 

फिजिक्स के लिए नोबेल पुरस्कार 2021 की हुई घोषणा
 रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने जटिल भौतिक प्रणालियों की हमारी समझ में अभूतपूर्व योगदान के लिए संयुक्त रूप से तीन लोगों को चुना है। इसमें स्यूकुरो मानेबे क्लाउस हैसलमैन और जियोर्जियो पेरिसी को फिजिक्स में नोबेल दिए जाने की घोषणा की है।

स्टाकहोम, एजेंसियां। फिजिक्स के लिए नोबेल पुरस्कार 2021 की घोषणा कर दी गई है। रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने 'जटिल भौतिक प्रणालियों की समझ में अभूतपूर्व योगदान के लिए' संयुक्त रूप से तीन लोगों को चुना है। इसमें स्यूकुरो मानेबे, क्लाउस हैसलमैन  और जियोर्जियो पेरिसी (Giorgio Parisi) हैं, जिन्हें फिजिक्स के लिए 2021 के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किए जाने का निर्णय लिया गया है।


स्यूकुरो मानेबे और क्लाउस हैसलमैन ने धरती की जलवायु का फिजिकल माडल तैयार किया जिससे इसमें होने वाले बदलाव पर सटीकता से नजर रखी जा सकती है और ग्लोबल वार्मिंग का अनुमान लगाया जा सकता है। इसके साथ ही जियोर्जियो पेरिसी (Giorgio Parisi) ने अपनी खोज के द्वारा अणुओं से लेकर ग्रहों तक के फिजिकल सिस्टम में होने वाले तेज बदलाव और विकारों के बीच की गतिविधि को दिखाया है।सोमवार को नोबेल समिति ने चिकित्सा के क्षेत्र में अमेरिकी वैज्ञानिक डेविड जूलियस और अर्डेम पटापौटियन को उनकी खोजों के लिए सम्मानित किया था। आने वाले दिनों में रसायन विज्ञान, साहित्य, शांति और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए पुरस्कार भी प्रदान किए जाएंगे।

बता दें कि पिछले साल भौतिकी विज्ञान का नोबेल पुरस्‍कार अमेरिकी वैज्ञानिक आंड्रेया घेज, ब्रिटेन के रोजर पेनरोज और जर्मनी के रिनार्ड गेनजेल को मिला था। इन तीनों को ब्‍लैक होल्‍स पर रिसर्च के लिए इस पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया था।

गौरतलब है कि नोबेल पुरस्‍कार को हासिल करने वाले व्‍यक्ति को एक गोल्‍ड मेडल के साथ एक करोड़ स्वीडिश क्रोनर (करीब 8.5 करोड़ रुपये) की राशि दी जाती है।