दिल्ली में सांड़ का इलाज कर रहे डाक्टर की क्यों हुई जमकर धुनाई, वजह तलाशने में जुटी पुलिस

दिल्ली में सांड़ का इलाज कर रहे डाक्टर को आखिर क्यों जमकर पीटा शख्स ने
पूर्वी दिल्ली के पांडवनगर इलाके में एक सांड़ का इलाज करना एक शख्स को इस कदर नागवार गुजरा कि उसने डाक्टर के साथ एंबुलेंस चालक को सड़क पर ही जमकर धुना। दिल नहीं भरा तो अपने साथियों के साथ फिर आकर डाक्टर को जमकर कूटा।

नई दिल्ली,  डिजिटल डेस्क। बेजुबान जानवरों-पशुओं के प्रति सनातन से मनुष्यों के मन में संवेदना रही है। अक्सर किसी पशु-जानवर को चोट या अन्य दुख हो तो मनुष्य उसकी सेवा-इलाज में जाता है, लेकिन देश की राजधानी दिल्ली में हैरान करने वाला मामला सामने आया है। पूर्वी दिल्ली के पांडवनगर इलाके में एक सांड़ का इलाज करना एक शख्स को इस कदर नागवार गुजरा कि उसने डाक्टर के साथ एंबुलेंस चालक को सड़क पर ही जमकर धुना। दिल नहीं भरा तो अपने साथियों के साथ फिर आकर डाक्टर को जमकर कूटा। वहीं, सूचना पर पहुंची दिल्ली पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।  

हुआ यूं कि पांडव नगर में घायल सांड़ का इलाज कर रहे डाक्टर से स्थानीय शख्स अमित डेढ़ा ने कहा कि वह इस जानवर का इलाज ही क्यों कर रहा है? इस पर डाक्टर ने अपने पेशे का हवाला देते हुए कहा कि यह मेरा फर्ज है। इसके बाद अमित डेढ़ा ने डाक्टर राघव (31) और एंबुलेंस चालक राहुल कुमार सिंह (26) की पिटाई कर दी। इसके बाद वह वहां से चला गया। कुछ देर बाद आरोपित अमित डेढ़ा अपने साथियों के साथ फिर पहुंचा। इसके बाद एंबुलेंस में भी जमकर तोड़फोड़ की। इस दौरान किसी तरह भागकर एंबुलेंस चालक ने अपनी जान बचाई, लेकिन आरोपियों ने डाक्टर राघव को जमकर पीटा। फिलहाल दोनों घायल एलबीएस अस्पताल में भर्ती हैं, जहां पर इनका इलाज चल रहा है। 

क्यों पीटा नहीं पता चल पा रही वजह

शिकायत के बाद आरोपित अमित डेढ़ा की तलाश में जुटी दिल्ली पुलिस का कहना है कि एंबुलेंस चालक राहुल कुमार सिंह परिवार के साथ दिल्ली से सटे नोएडा सेक्टर-8 में रहता है। राहुल एक निजी संस्था में एंबुलेंस चालक है, यह संस्था जानवरों की देखभाल का काम करती है। पिछले दिनों पांडव नगर इलाके के कुकरेजा अस्पताल के पास एक सांड के बीमार होने की सूचना उनकी संस्था को मिली थी। इस पर संस्था के आदेश पर राहुल एंबुलेंस में डा. राघव को लेकर पांडवनगर पहुंचा। डाक्टर राघव ने इलाज शुरू ही किया था कि अमित डेढ़ा नाम के शख्स ने एतराज जताया। इस दौरान आरोपित अमित डेढ़ा ने यह भी कहा कि वह बड़ा डाक्टर है और सांड़ का इलाज नहीं करने की बात कही। इस दौरान विवाद बढ़ा तो अमित डेढ़ा ने डाक्टर राघव को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद वह वहां से चला गया तो डाक्टर राघव फिर इलाज में जुट गए। कुछ देर बाद आरोपित अमित डेढ़ा फिर पहुंचा और उसने अपने साथियों के साथ डाक्टर राघव और एंबुलेंस चालक राकेश की जमकर पिटाई की। इसके बाद फरार हो गया।