लखीमपुर हिंसा पर राष्ट्रपति कोविन्द से मुलाकात करेंगे राहुल गांधी, कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल को करेंगे लीड

 

लखीमपुर हिंसा पर राष्ट्रपति कोविन्द से मुलाकात करेंगे राहुल गांधी, कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल को करेंगे लीड
कांग्रेस ने पहले एक पत्र लिखते हुए राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा था। पत्र में कहा गया था लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या की दिल दहला देने वाली घटना हुई लेकिन न तो दोषियों के खिलाफ और न ही मंत्री के खिलाफ कोई निर्णायक कार्रवाई की गई।

नई दिल्ली, एजेंसी। लखीमपुर खीरी कांड पर चर्चा करने और तथ्यों से जुड़ा एक ज्ञापन सौंपने के लिए कांग्रेस का एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल बुधवार सुबह राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द से मुलाकात करेगा। प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी, एके एंटनी, मल्लिकार्जुन खड़गे, गुलाम नबी आजाद, प्रियंका वाड्रा, अधीर रंजन चौधरी और केसी वेणुगोपाल शामिल होंगे। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष गांधी इस प्रतिनिधिमंडल को लीड करेंगे।

कांग्रेस ने पहले एक पत्र लिखते हुए राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा था। पत्र में कहा गया था, 'उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या की दिल दहला देने वाली घटना ने देश की अंतरात्मा को झकझोर कर रख दिया है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा द्वारा दी गई खुली चेतावनी और मंत्री और उनके परिवार के स्वामित्व वाली थार जीप के नीचे किसानों को कुचलना और भी दुखद है। प्रत्यक्षदर्शी रहे किसानों ने खुले तौर पर कहा है कि मंत्री के बेटे द्वारा चलाए जा रहे वाहन ने उन्हें कुचल दिया। चौतरफा विरोध और सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बावजूद, न तो दोषियों के खिलाफ और न ही मंत्री के खिलाफ कोई निर्णायक कार्रवाई की गई है।'

कांग्रेस ने कहा कि वे इस मुद्दे पर राष्ट्रपति को तथ्यों का एक विस्तृत ज्ञापन प्रस्तुत करना चाहते हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसान सहित आठ लोगों की मृत्यु हो गई थी। इसमें मुख्य आरोपित केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा मोनू पर शिकंजा कसा जा चुका है। वह गिरफ्तारी के बाद जेल भेजे जा चुके हैं।

कांग्रेस समेत पूरा विपक्ष योगी आदित्यनाथ और नरेंद्र मोदी सरकार पर हमलावर है और आशीष के पिता और केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने की भी मांग की जा रही है। वहीं, जब यह हिंसा हुई तो उस दिन यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के साथ केन्द्रीय मंत्री लखीमपुर में एक सभा कर रहे थे।