चीन में गहराए बिजली संकट से पंजाब के उद्यमियों की बढ़ने लगी टेंशन, स्टील के दामों में इजाफा

 


चीन कई कलपुर्जो के निर्माण में भी अहम भूमिका अदा करता है।
चेंबर आफ इंडस्ट्रीयल एवं कमर्शियल अंडरटेकिंग (सीआइसीयू) के प्रधान उपकार सिंह आहुजा ने कहा कि चीन का संकट पूरे विश्व के लिए चुनौतियां पैदा कर सकता है। इसमें भारत खासकर पंजाब के उद्योगों को भी चिंता सता रही है। क्योंकि स्टील के दामों में हो रहा इजाफा इसका संकेत है।

संवाददाता, लुधियाना। इन दिनों चीन में बिजली संकट गहराया हुआ है। चीन में गहराए बिजली संकट से भारतीय उद्योगों के लिए अवसर के साथ साथ कई चुनौतियां पैदा हो सकती हैं। क्योंकि चीन कई अहम कलपुर्जो के निर्माण में भी अहम भूमिका अदा करता है। ऐसे में एकदम से सप्लाई चेन टूट जाने से इसका असर भारतीय बाजार पर भी पड़ सकता है।

चेंबर आफ इंडस्ट्रीयल एवं कमर्शियल अंडरटेकिंग (सीआइसीयू) के प्रधान उपकार सिंह आहुजा ने कहा कि चीन का संकट पूरे विश्व के लिए चुनौतियां पैदा कर सकता है। इसमें भारत खासकर पंजाब के उद्योगों को भी चिंता सता रही है। क्योंकि स्टील के दामों में एकदम से हो रहा इजाफा इसका संकेत है। ग्लोबल मार्केट की डिमांड को पूरा करने के लिए बड़े स्टील निर्माता एक्सपोर्ट की ओर रूख कर सकते हैं और इससे आने वाले दिनों में पंजाब की इंजीनियरिंग इंडस्ट्री को महंगे लोहे के साथ साथ शार्टेज का सामना करना पड़ सकता है। जिससे यहां लागत मूल्य भी बढ़ जाती है और स्टाक न होने से शार्टेज भी हो जाती है।

उन्होंने उद्योग एवं स्टील मंत्री से मांग की है कि स्टील की एक्सपोर्ट भारत की डिमांड को देखते हुए करने दी जाए। अगर ज्यादा एक्सपोर्ट स्टील की होगी, तो इससे भारत में दाम भी बढ़ेंगे और फिनिशड गुड्स का निर्माण नहीं हो पाएगा, इससे आने वाले समय में फिनिशड गुड्स साइकिल, साइकिल एवं पार्टस, हैंडटूल, मशीन टूल, आटो पार्टस, ट्रैक्टर पार्टस का निर्माण खासा प्रभावित हो जाएगी। इसलिए एक्सपोर्ट यहां की मांग को पूरा कर किया जाए