भक्त चरण दास पर लालू के बयान से भड़की कांग्रेस, कहा- यह दलितों के आत्मसम्मान के खिलाफ


मीरा कुमार का आरोप- लालू का बयान एससी/एसटी एक्ट के तहत अपराध के रूप में आता है

 द्वारा लगाए गए आरोप कि कांग्रेस से मुंह मोड़कर राजद भाजपा की मदद कर रही है के बारे में पूछे जाने पर लालू यादव ने कहा भक्त चरण दास एक मूर्ख व्यक्ति हैं। उन्होंने कहा कि चरण दास जमीनी स्तर पर स्थिति का आकलन करने में असमर्थ हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ। बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास पर लालू प्रसाद की टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता मीरा कुमार ने नाराजगी जताई है। उनका कहना है कि लालू ने भक्त चरण दास के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का उपयोग कर दलित समुदाय के स्वाभिमान को ठेस पहुंचाई है। उन्होंने आगे आरोप लगाते हुए कहा कि लालू यादव की टिप्पणी एससी/एसटी अधिनियम के तहत अपराध में आती है।

कांग्रेस नेता ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'एक सम्मानित नेता ने बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया है, बिहार और देश के दलित समुदाय के आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाई है और एससी/एसटी अधिनियम के तहत यह अपराध के रूप में आता है।'

बता दें कि लालू यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए भक्त चरण दास को बेवकूफ कह दिया था। लालू का यह बयान तब आया है जब उनकी पार्टी आगामी उपचुनावों की तैयारी कर रही है। बिहार में उपचुनाव से पहले कांग्रेस के साथ पार्टी के गठबंधन पर लालू यादव ने कहा कि अगर वे राज्य में कांग्रेस के साथ गठबंधन में रहते हैं तो उनकी पार्टी के उम्मीदवारों को चुनाव में अपनी जमानत जब्त करवानी पड़ जाएगी। रविवार को इस पर मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए, यादव ने कहा, 'क्या हम नुकसान के लिए सब कुछ कांग्रेस पर छोड़ देते? जमानत जब्त होने के लिए?'

दास द्वारा लगाए गए आरोप कि कांग्रेस से मुंह मोड़कर राजद भाजपा की मदद कर रही है, के बारे में पूछे जाने पर लालू यादव ने कहा, 'भक्त चरण दास एक मूर्ख व्यक्ति हैं।' उन्होंने कहा कि चरण दास जमीनी स्तर पर स्थिति का आकलन करने में असमर्थ हैं।

राजद द्वारा दो सीटों पर चुनाव लड़ने के अपने फैसले की घोषणा के बाद कांग्रेस ने भी दो सीटों के लिए अपने उम्मीदवार उतारे हैं, जिससे राज्य में सहयोगी दलों के बीच दरार पैदा हो गई है। इस बीच राजद ने बिहार में 30 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव में कुशेश्वर अस्थान और तारापुर दोनों जगहों से अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है।