जेईई की तैयारी को लेकर मन में है कन्फ्यूजन तो यहां जानें एक्जाम क्रैक करने के टिप्स

 

स्टूडेंट अपनी आगे की पढ़ाई और करियर को लेकर दुविधा में होते हैं।

 ज्यादातर स्टूडेंट अपनी आगे की पढ़ाई और करियर को लेकर दुविधा में होते हैं। इस तरह की दुविधा से जुड़े पाठकों के सवालों के उत्तर दे रहे हैं वरिष्ठ करियर काउंसलर अरुण श्रीवास्तव...

नई दिल्ली । ज्यादातर स्टूडेंट अपनी आगे की पढ़ाई और करियर को लेकर दुविधा में होते हैं। उन्हें किस तरह पढ़ाई करनी है किस तरह से एक्जाम क्रैक करने के लिए प्लान बनाना है। छात्र-छात्राओं के लिए यह सभी जरूरी प्वाइंट होते हैं। इस तरह की दुविधा से जुड़े पाठकों के सवालों के उत्तर दे रहे हैं वरिष्ठ करियर काउंसलर अरुण श्रीवास्तव...

मैं बारहवीं का छात्र हूं। जेईई मेंस और एडवांस देना चाहता हूं। इसके लिए मुझे क्या तैयारी करनी होगी? कृपया मेरा मार्गदर्शन कीजिए।

योगेंद्र राजपूत, ईमेल से

सबसे पहले तो आप 11वीं-12वीं के पीसीएम के सिलेबस पर अपनी मजबूत पकड़ बनाएं। रटने के बजाय समझने पर ध्यान देंगे, तो विषय से संबंधित धारणाएं स्पष्ट होंगी और आप उससे संबंधित किसी भी तरह के सवाल का जवाब देने में सक्षम हो सकेंगे। एक बार यह प्रक्रिया पूरी कर लेने के बाद आप जेईई के सिलेबस को अपने पास रखकर क्रमश: उसके अनुसार अपने अध्ययन को आगे बढ़ाएं। एक बार सिलेबस को पूरा कवर कर लेने के बाद पिछले कम से कम पांच-छह वर्षों के जेईई के पेपर (मेंस और एडवांस दोनों) को हल करने का प्रयास करें। जिन सवालों को हल करने में कठिनाई हो या सिलेबस के जिस हिस्से में खुद को कमजोर महसूस करें, उस पर फोकस करते हुए अध्ययन करें। इस पर सहपाठियों से चर्चा करें। स्कूल के टीचर से पूछें। आनलाइन मदद तलाशें। यूट्यूब पर कुछ प्रोफेशनल शौकिया क्लास लेते हुए स्टूडेंट्स के प्रश्नों के जवाब देते हैं। अपनी तैयारी से पूर्णत: संतुष्ट होने के बाद आप जेईई में शामिल हो सकते हैं।

मैंने इसी वर्ष बीए उत्तीर्ण किया है। इसमें 45 फीसद से कम अंक आए हैं। यूपीएससी की तैयारी भी कर रहा हूं। मेरे पास प्लान बी क्या होना चाहिए?

नकुल गौड़, ईमेल से

सबसे पहले तो आप यूपीएससी के लक्ष्य को लेकर अपनी गंभीरता का अच्छी तरह आकलन कर लें। यदि इसे लेकर दृढ़ सकंल्पित हैं, तो फिर समुचित स्ट्रेटेजी के साथ अपनी तैयारी को आगे बढ़ाएं। जहां तक प्लान बी की बात है, तो इस बारे में सोचना अच्छी बात है। इसके लिए आपको पहले अपनी रुचि/पसंद के विषय/क्षेत्र के बारे में विचार करना चाहिए। करियर का ऐसा कौन-सा क्षेत्र हो सकता है, जिसमें आपको आगे लगातार काम करके सुकून और खुशी मिल सकती है। साथ ही, जिसमें अच्छे पैसे और तरक्की के अवसर भी हों।

मैंने 12वीं बायोलाजी से किया है। मैं डीएम बनना चाहती हूं। इसके लिए मुझे आगे क्या चाहिए?

प्रिया शर्मा, ईमेल से

डीएम (डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट) आइएएस (भारतीय प्रशासनिक सेवा) होते हैं। आइएएस का चयन संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा हर साल आयोजित सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से होता है। इस परीक्षा में शामिल होने के लिए किसी भी स्ट्रीम से स्नातक पास होने की जरूरत होती है। ऐसे में आपको फिलहाल अपनी पसंद की स्ट्रीम और विषयों के साथ ग्रेजुएशन करने पर ध्यान देना चाहिए। इस दौरान आपको यूपीएससी के सिलेबस और पिछले कुछ वर्षों के प्रश्नपत्रों का अच्छी तरह अवलोकन करते हुए अपनी तैयारी को भी आगे बढ़ाने पर ध्यान देना चाहिए। बेहतर होगा कि अपनी तैयारी की शुरुआत आप एनसीईआरटी की किताबों (छठीं से बारहवीं तक की) के अध्ययन से करें। साथ ही, समसामयिक विषयों को अच्छी तरह जानने-समझने के लिए राष्ट्रीय स्तर के समाचार पत्र भी नियमित रूप से पढ़ें।

Popular posts
अयान मुखर्जी ने शेयर कीं 'ब्रह्मास्त्र' की शूटिंग की 5 तस्वीरें, तीसरी तस्वीर से लीक हुआ रणबीर कपूर के पौराणिक किरदार का लुक?
Image
दिल्ली में बर्बाद हो चुकी फसल के लिए किसानों को मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार, भाजपा ने लिया क्रेडिट
Image
खुद को पानी और आग आग का मिश्रण मानती हैं ईशा सिंह, 'सिर्फ तुम' से डेढ़ साल बाद लौटीं टीवी पर
Image
आमना शरीफ ने ब्लैक ब्रालेट पहन बीच पर 'बोल्ड' अंदाज में किया पोज, तस्वीरें देख ट्रोलर्स ने कहा, 'आप कहां की शरीफ है'
Image
सिर्फ 9 लाख रुपये में ग्रेटर नोएडा में पाएं अपना घर, जानिये- कीमत, ड्रा और पजेशन के बारे में
Image