तेजस्‍वी के जाते ही लालू से मिलने राबड़ी आवास पहुंचे तेज प्रताप, कहा- जगदानंद RSS एजेंट, कार्रवाई कीजिए

 

लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव। तस्‍वीरे: जागरण।
लालू परिवार में पालिटिकल ड्रामा जारी है। सोमवार को जैसे हीं तेजस्‍वी यादव राबड़ी आवास ने निकले तेज प्रताप यादव ने एंट्री ली। वहां वे लालू प्रसाद यादव से जगदानंद सिंह शिवानंद तिवारी एवं तेजस्‍वी के राजनीतिक सलाहकार संजय यादव पर कार्रवाई की जिद पर अड़ गए हैं।

पटना, स्‍टेट ब्‍यूरो। लालू परिवार  में हाईवोल्टेज ड्रामा जारी है। अपने अपमान से आहत तेज प्रताप यादव  देर रात अपने आवास के बाहर धरना पर बैठ गए थे। उन्‍होंने भाई तेजस्‍वी यादव  के खिलाफ भी गुस्‍सा उतारा। उन्‍हें मनाने के लिए खुद लालू प्रसाद यादव को आना पड़ा। वे देर रात मां राबड़ी देवी के आवास पर भी बुलाए गए। लालू ने उन्हें देर रात तक समझाया-बुझाया। चुनाव तक शांत रहने की सलाह दी। तेज प्रताप यादव एक बार फिर भाई तेजस्‍वी यादव के बाहर जाते हीं लालू प्रसाद यादव से मिलने राबड़ी आवास पर पर पहुंचे हैं। बताया जा रहा है कि वहां वे आरजेडी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष शिवानंद तिवारी , प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह  एवं तेजस्‍वी के राजनीतिक सलाहकार संजय यादव ) के खिलाफ कार्रवाई को लेकर जिद पर अड़े हुए हैं। कहा कि जबतक जगदानंद सिंह आरएसएस के एजेंट हैं, उनको पार्टी से निकाले जाने तक राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) से कोई मतलब नहीं है। वे बहुत बड़ा कदम उठाने वाले हैं।

धरना पर बैठे नाराज तेज प्रताप, मनाने पहुंचे लालू

बीती शाम लालू प्रसाद यादव दिल्‍ली से पटना पहुंचे। तेज प्रताप यादव उनकी अगुवानी में पटना एयरपोर्ट पर पहुंचे, लेकिन आरजेडी नेताओं ने वहां उन्‍हें खास तवज्‍जो नहीं दी। उनकी मानें तो उनके साथ दुर्व्‍यवहार किया गया तथा राबड़ी आवास में भी एंट्री नहीं दी गई। इससे नाराज तेज प्रताप देर रात अपने आवास के सामने धरना पर बैठ गए। फिर लालू को खुद उन्‍हें मनाने आना पड़ा।

देर रात तक लालू ने समझाया, लेकिन नहीं माने

तेज प्रताप रात में राबड़ी आवास पहुंचे तो लालू परिवार से उनकी देर रात तक बातचीत हुई। परिवार उन्‍हें मनाने की कोशिशें करता रहा, लेकिन वे नहीं माने। वे जगदानंद सिंह, शिवानंद तिवारी तथा तेजस्‍वी यादव के राजनीतिक सलाहकार संजय यादव के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े रहे। तेज प्रताप यादव ने लालू को पार्टी के संबंध में और भी कई जानकारी दी। तेज प्रताप ने आरोप लगाया कि एयरपोर्ट पर उन्‍हें जगदानंद सिंह ने ठेलने का काम किया। वे आरएसएस के एजेंट हैं। जब तक जगदानंद सिंह को पार्टी से निकाला नहीं जाता, उन्‍हें आरजेडी से कोई मतलब नहीं है। तेज प्रताप ने इशारों में यह भी कहा कि आगे वे बहुत बड़ा कदम उठाने वाले हैं।

जगदानंद, शिवनंद व संजय पर कार्रवाई की मांग

सोमवार की दोपहर जैसे हीं तेजस्‍वी यादव चुनाव प्रचार के सिलसिले में घर से बाहर निकले, तेज प्रताप फिर पहुंचे हैं। उनकी लालू प्रसाद यादव सहित परिवार के अन्‍य लोगों से बातचीत हो रही है। वे अपनी जिद पर अड़े बताए जा रहे हैं। तेज प्रताप ने कहा है कि जगदानंद सिंह, शिवनंद तिवारी, सुनील सिंह एवं संजय यादव के खिलाफ कार्रवाई होने तक उनका पार्टी व परिवार से काेई नाता नहीं है।

परिवार में दिख रहे दो ध्रुव, अकेले पड़े तेज प्रताप

लालू परिवार में इस मसले पर दो ध्रुव साफ दिख रहे हैं। तेज प्रताप जिस जगदानंद सिंह के खिलाफ कार्रवाई चाहते हैं, तेजस्‍वी यादव उनके साथ हैं। अब तेज प्रताप की बहन रोहिणी आचार्य ने भी जगदानंद सिंह के समर्थन में अपने ट्वीट में उन्‍हें लालू प्रसाद यादव के सुख-दूख का साथ बताया है। तेजस्‍वी उस संजय यादव को अपना राजनीतिक सलाहकार बनाए हुए हैं, जिसे तेज प्रताप देखना नहीं चाहते। जदगानंद सिंह एवं शिवानंद तिवारी ने तेज प्रताप के खिलाफ खुलकर बयान दिए हैं, लेकिन परिवार ने उनपर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। स्‍पष्‍ट है, तेज प्रताप परिवार में अकेले पड़ गए दिख रहे हैं।