छठ पूजा को लेकर 10 की सुबह सात बजे से 11 की अपराह्न 3 बजे तक भारी वाहनों की नो इंट्री

 

छठ पूजा के भारी वाहनों को प्रदर्शित करती यह प्रतीकात्मक तस्वीर।
छठ पूजा में श्रद्धालूओं की उमड़ने की संभावना को देखते हुए जिला प्रशासन ने भारी वाहनों की नो एंट्री का समय घोषित कर दिया गया है। प्रशासन की ओर से मिली जानकारी के अनुसार 10 नवंबर की सुबह सात बजे से भारी वाहनों का प्रवेश बंद रहेगा।

जमशेदपुर, सं। पूर्वी सिंहभूम जिले के जमशेदपुर में छठ पूजा को लेकर ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव किया गया है। 9 नवंबर मंगलवार को खरना के दिन से ही अगले तीन दिन 11 नवंबर तक ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव रहेगा। प्रभारी ट्रैफिक डीएसपी कमल किशोर के अनुसार 10 नवम्बर को प्रातः सात बजे से 11 नवंबर के अपराह्न तीन बजे तक शहर में भारी वाहनों का प्रवेश पूर्ण रूप से वर्जित किया गया है। 9 नवंबर को प्रातः छह बजे से सुबह नौ बजे तक भारी वाहनों का परिचालन शहर में दोनों तरफ से चालू रहेगा।इसी दिन सुबह नौ बजे से रात 11 बजे तक बस को छोड़कर भारी वाहनों का परिचालन पूर्णतः वर्जित रहेगा। 10 नवंबर को प्रातः छह बजे से सात बजे तक एक घंटे के लिए भारी वाहनों का शहर में दोनों तरफ से परिचालन होगा। 10 नवम्बर को प्रातः सात बजे से 11 के अपराह्न तीन बजे तक भारी वाहनों का परिचालन पूर्णतः वर्जित रहेगा। 11 नवंबर को अपराह्न तीन बजे से संध्या पांच बजे तक भारी वाहनों का परिचालन सिर्फ शहर से बाहर निकलने के लिए होगा। ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव को लेकर सभी ट्रैफिक थाना और थाना की पुलिस को अवगत करा दिया गया है। वही विधि व्यवस्था को लेकर पुलिस बल की तैनाती जमशेदपुर के हर छठ घाट पर रहेगी। इसको लेकर सिटी एसपी ने रविवार को सभी थाना की पुलिस के साथ बैठक की थी। 

घाटों की हुई छेंका-छेंकी

नहाय-खाय के साथ ही श्रद्धालुओं द्वारा घाटों की छेंका-छेकी का कार्य भी पूर हो चुका है। सभी ने घाटों के स्थान को छेककर उसमें अपना नाम भी लिख दिया है। बीच-बीच में आकर श्रद्धालू अपने घाटों की निगरानी भी कर रहे हैं। श्रद्धालू निगरानी की ड्यूटी बांटकर यह कार्य कर रहे हैं।