कमाल की हैं कानपुर में जन्मी वंशी, केबीसी-13 में अमिताभ बच्चन भी रह गए हैरान, बंद आंखों से पढ़ दी किताब

 

केबीसी-13 के शो में नजर आईं वंशी चौहान।
स्टूडेंट स्पेशल कौन बनेगा करोड़पति सीजन 13 में अमिताभ बच्चन को कानपुर में जन्मी वंशी चौहान ने अपनी विलक्षण प्रतिभा से हैरान कर दिया। हालांकि गेम उन्होंने बीच में ही क्वीट कर दिया लेकिन अपनी सुपरपावर से सभी को चकित कर दिया।

कानपुर, संवाददाता। विलक्षण प्रतिभा वाले लोगों की पहचान कानपुर शहर में जन्मी वंशी चौहान भी केबीसी-13  की हॉट सीट पर पहुंची हैं, जिन्होंने अमिताभ बच्चनको भी अपनी अद्भुत क्षमता से चकित किया है। हालांकि वंशी केबीसी की हॉट सीट पर खास नहीं बन सकीं लेकिन अपनी गॉड गिफ्टेड पावर का कमाल दिखाकर वह अमिताभ बच्चन ही नहीं बल्कि हर दर्शक के दिलों में छा गई हैं। केबीसी-13 (KBC 13)में वंशी प्रसारित होने वाले एपीसोड में नजर आई हैं।

कौन हैं वंशी चाैहान : महज 11 साल की उम्र में कौन बनेगा करोड़पति सीजन 13 में हाट सीट पर बैठने वाली वंशी चौहान का जन्म कानपुर में हुआ था। जन्म के बाद ही उनका परिवार गुड़गांव शिफ्ट हो गया था और वह भी उनके साथ चली गई थीं। इसके बाद परिवार बेंगलुरू चला गया, जहां पर उन्होंने शिक्षा ग्रहण करनी शुरू की है। मौजूदा समय में वह दिल्ली पब्लिक स्कूल में कक्षा छह की छात्रा हैं।

केबीसी-13 की हाॅट सीट पर बैठीं वंशी : इन दिनों कौन बनेगा करोड़पति सीजन 13 में स्टूडेंट स्पेशल का प्रसारण दिखाया जा रहा है, जिसमें प्रतिभाग करने वाले स्टूडेंट्स की प्रतिभा और ज्ञान देखकर बिग बी अमिताभ बच्चन (Amitabh bachchan)भी चकित हो जा रहे हैं। स्टूडेंट स्पेशल एपिसोड में वंशी चौहान पहुंची और उनको हासिल गॉड गिफ्टेड सुपरपावर को देखकर बिग बी भी हैरान रह गए। हालांकि वंशी केबीसी में ज्यादा रकम नहीं जीत पाईं और 80 हजार के पड़ाव पर पहुंचने तक लाइफ लाइन ले चुकी थी और फिर 1 लाख 60 हजार के पड़ाव पर क्वीट कर दिया।

डाक्टर बनना चाहती हैं वंशी : डाक्टर बनने की चाह रखने वाली वंशी ने बताया कि जो भी राशि मैं जीतूंगी। वह मेरी पढ़ाई में लगाया जायेगा। उन्होंने बताया कि अमिताभ बच्चन के साथ केबीसी शो हिस्सा लेना एक रोचक अनुभव रहा।

दादा को मानती है बेहतर दोस्त : वंशी बताती हैं कि पिता निखिल चौहान उसे गणित विषय की पढ़ाई कराते हैं। वंशी अपने दादा (नानू) में अपना सबसे अच्छा दोस्त मानती हैं। वो रोज सोने से पहले उन्हें वीडियो कॉल करती है।

आंखों पर पट्टी बांध बता देती रंग और सूंघ कर पढ़ती किताब : वंशी चौहान इंग्लिश ओलंपियाड में गोल्ड मेडलिस्ट और साइबर ओलंपियाड में सिल्वर मेडलिस्ट हैं और उन्हें बैडमिंटन खेलना पसंद है। उनके पास संवेदी प्रतिस्थापन की एक अनूठी प्रतिभा है। वह आंखों पर पट्टी बांधकर सूंघने की भावना के माध्यम से किताब पढ़ सकती हैं। आंखों के साथ स्पर्श इंद्रिय के माध्यम से वस्तु के रंग की पहचान कर सकती हैं। अपनी इस प्रतिभा के बारे में उन्होंने बताया कि यह शक्ति बेटर माइंड कोर्स करके मिली है।

जानिए-क्या है बेटर माइंड का कोर्स : बेटर माइंड कोर्स एक ग्लोबल कोर्स है, जो सात से आठ हफ्ते का होता है। इसमें सात से 15 साल के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं और इसके जरिये बच्चों का दिमाग तेज किया जाता है। इसमें बच्चे स्मेल करके चीजों को पढ़ते और समझते हैं। वंशी के मुताबिक ये जादू नहीं है, इसमें मेडिटेशन होता है और ब्रेन एक्सरसाइज कराया जाता है। सांसों से जुड़ी इस एक्सरसाइज के जरिये ऐसे सेंस डेवलप होते हैं, जो आंखों का काम करने लगते हैं।मस्तिष्क के व्यायाम के माध्यम से इसे विकसित किया जा सकता है।