पंजाब सीएम चन्‍नी 17 सदस्‍यीय दल के साथ करतारपुर साहिब रवाना, सिद्धू को नहीं मिली अनुमति

करतारपुर कारिडोर का वीरवार सुबह का नजारा और करतारपुर साहिब रवाना होने से पहले चरणजीत सिंह चन्‍नी। (जागरण)
पंजाब के मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंंह चन्‍नी आज मंत्रियोंं और वरिष्ठ मंत्रियों के दल के साथ करतारपुर कारिडोर से होकर पाकिस्‍तान स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब जाएंगे। वह कारिडोर पर पहुंच गए हैं। उनके दल 50 लाेग शामिल हैं।

चंडीगढ़/डेरा बाबा नानक: मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी डेरा बाबा नानक पहुंच गए हैं। वह अपने कैबिनेट मंत्रियों के साथ टर्मिनल पर पहुंचे और इसके बाद पाकिस्‍तान स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के लिए रवाना हुए। कांग्रेस के पहले जत्थे में मुख्‍यमंत्री चरणजीत चन्नी के साथ विजय सिंगला , मनप्रीत बादल, विधायक इंद्रबीर सिंह,  हर प्रताप सिंह अजनाला सहित  17 लोग शामिल हैं।करतारपुर कोरिडोर से पाकिस्तान जीरो लाइन पर गेट पार करते हुए मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी और पंजाब के मंत्रियों काे लैंडपोर्ट अथॉरिटी आफ इंडिया के अधिकारियों ने सम्मानित भी किया। दूसरी ओर बताया जा रहा है कि आज 95 श्रद्धालु ही गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब जी के दर्शन के लिए जाने की अनुमति दी जाएगी। इससे पहले बताया गया था कि दूसरे दिन लगभग 250 लोग श्री करतारपुर साहिब जाएंगे।   

कांग्रेस नेता महिंंदर सिं‍ह केपी दस्‍तावेज क्लीयरेंस न मिलने के कारण नहीं जा सके करतारपुर साहिब 

इस दल के साथ पंजाब कांग्रेस के अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को भी जाना था, लेकिन उनको अनुमति नहीं मिली।करतारपुर कारिडोर के खुलने के दूसरे दिन आज पाकिस्‍तान‍ स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब जाने के लिए सुबह से श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। दूसरी ओर, महिंदर सिंह केपी दर्शनों के लिए श्री करतारपुर साहिब रवाना नहीं हो सके। उनको कारिडोर से वापस होना पड़ा। दस्तावेज क्‍लीयरेंस न होने कारण श्री करतारपुर साहिब जी के दर्शन के लिए नहीं जा सके। 

jagran

श्री करतारपुर साहिब जाने के लिए पाकिस्‍तान की सीमा में प्रवेश करते सीएम चरणजीत सिंह चन्‍नी व अन्‍य नेता।  

भारत-पाक जीरो लाइन पर लैंडपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया के अधिकारियों ने किया स्वागत

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी अपने परिवार, कैबिनेट मंत्रियों व विधायकों सहित रवाना हुए। लैंडपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया के अधिकारी रमन कुमार,  प्रोजेक्ट डायरेक्टर व पेसेंजर टर्मिनल के जनरल मैनेजर सुखदेव सिंह आदि ने मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी व कैबिनेट मंत्रियों को सिरोपा भेंट करके जीरो लाइन से  श्री करतारपुर साहिब रवाना किया। इस दौरान चरणजीत सिंह चन्नी ने लैंडपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया के अधिकारियों का आभार जताया।jagran

डेरा बाबा नानक में करतारपुर कारिडोर पहुंचने पर सीएम चरणजीत सिंह चन्‍नी का स्‍वागत करते अधिकारी। (एएनआइ)   

जानकारी के मुताबिक वित्‍तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल, कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह, कैबिनेट मंत्री विजय इंद्र सिंगला के साथ विधायक हरप्रताप सिंह अजनाला, बरिंदरमीत सिंह पाहड़ा अपने परिवारों सहित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब जी के दर्शन करने के लिए गए। काबिलेजिक्र है कि राणा महिंदर केपी अपने परिवारिक सदस्यों सहित गुरुद्वारा साहिब जी के दर्शन करने के लिए पैसेंजर टर्मिनल में पहुंचे थे, मगर दस्तावेज अधूरे होने से वे वहां जाने से वंचित रहे।

पाकिस्‍तान रवाना होने से पहले मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने कहा कि श्री गुरु नानक देव जी के 552वें प्रकाश पर्व के पावन अवसर पर श्री करतारपुर साहिब जानकर माथा टेकने का अवसर पाकर खुद को धन्‍य समझ रहा हूं। 'चढ़ती कला' और 'सरबत दा भला' के लिए प्रार्थना करता हूं। आइए गुरु जी की प्रेम, शांति, धर्मनिरपेक्षता और भाईचारे की शिक्षाओं का पालन करें।   

इससे पहले, सुबह पंजाब भाजपा नेताओं का दल करतारपुर साहिब रवाना हुआ। इसके साथ ही सुबह से श्रद्धालुओं को जांच के बाद रवाना किया जा रहा है। आज मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंंह चन्‍नी के नेतृत्‍व में राज्‍य कैबिनेट के मंत्री और वरिष्‍ठ अधिक‍ारियों का दल कारिडोर होकर गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब रवाना हुआ। पंजाब कांग्रेस के अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को करतारपुर जाने की अनुमति नहीं मिली है। पहले के कार्यक्रम के अनुसार उनको भी चन्‍नी और मंत्रियों के साथ करतारपुर साहिब जाना था। वह अब 20 नवंबर को श्री करतारपुर साहिब जाएंगे।    

jagran

करतारपुर साहिब रवाना होने से पहले डेरा बाबा नानक में कारिडोर पहुंंचे सीएम चरणजीत सिंह चन्‍नी।

आज करतारपुर कारिडोर से श्रद्धालुओं को कोरोना टेस्‍ट की रिपोर्ट और कोरोना वैक्‍सीन की डोज लेने का सर्टिफिकेट दिखाने के बाद ही आगे जाने दिया गया। सुबह से करतारपुर कारिडोर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं का कोरोना टेस्‍ट किया जा रहा है और उनको पल्‍स पालियो दवा की बूंदें पिलाने के बाद ही जाने‍ दिया जा रहा है। बता दें कि करतारपुर कारिडोर के दोबारा खुलने के पहले दिन 17 नवंबर को 49 श्रद्धालु श्री करतारपुर साहिब गए थे। 

नवजोत सिद्धू  20 नवंबर को जाएंगे करतारपुर साहिब          

नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब सरकार के शिष्टमंडल के साथ करतारपुर साहिब जाने की अनुमति नहीं मिली है। इस कारण सिद्धू आज मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अगुआई में गुरुपर्व के उपलक्ष्य में पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में नतमस्तक नहीं हो पाएंगे। सिद्धू के मीडिया सलाहकार जगतार सिद्धू ने बताया कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के सारे दस्तावेज पूरे थे, लेकिन उन्हें वीरवार के बजाए 20 नवंबर को करतारपुर साहिब जाने की अनुमति मिली है।

सिद्धू के मीडिया सलाहकार जगतार सिद्धू ने कहा कि केंद्र सरकार ने राजनीतिक विद्वेष के कारण ऐसा किया है। उल्लेखनीय है कि इमरान खान के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने के बाद नवजोत सिद्धू पाकिस्तान चले गए थे, तब नवजोत सिद्धू पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जावेद बाजवा से गले मिलने के कारण सुर्खियों में आ गए थे। इसका व्यापक विरोध हुआ, लेकिन सिद्धू ने स्पष्ट किया कि बाजवा ने उनको करतारपुर कारिडाेर खोलने के बारे में बताया तो उन्‍होंने बाजवा को गले लगा लिया।