भारत को 2014 में मिली आजादी': कंगना पर भड़के नवाब मलिक, बोले- अभिनेत्री को गिरफ्तार करो, वापस लो पद्मश्री

 

'भारत को 2014 में मिली आजादी': कंगना पर भड़के नवाब मलिक, बोले- अभिनेत्री को गिरफ्तार करो, वापस लो पद्म श्री
नवाब मलिक बोले ऐसा लगता है कि कंगना रनोट ने ऐसा बयान देने से पहले मलाना क्रीम की भारी खुराक ले ली थी। हम मांग करते हैं कि केंद्र सरकार कंगना रनोट का पद्मश्री वापस ले और अभिनेत्री को गिरफ्तार किया जाए।

मुंबई, एजेंसी। महाराष्ट्र के मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता नवाब मलिक ने 1947 में भारत की स्वतंत्रता को 'भीख' या भिक्षा के रूप में वर्णित करने के लिए अभिनेत्री कंगना रनोट पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान किया है। मलिक ने कहा कि केंद्र को उनका पद्मश्री पुरस्कार वापस लेना चाहिए और उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए।

उन्होंने कहा, 'ऐसा लगता है कि कंगना रनोट ने ऐसा बयान देने से पहले मलाना क्रीम की भारी खुराक ले ली थी।' कंगना रनोट के देश की आजादी भीख में मिलने वाले बयान पर महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक बोले, 'मोहतरमा मलाणा क्रीम (हैश की एक विशेष किस्म जो विशेष रूप से एचपी में उगती है) लेकर ज्यादा बोल रही हैं। मलाणा क्रीम का डोज ज्यादा हो गया है इसलिए उल-जुलूल की बातें कर रहीं हैं। हम मांग करते हैं कि केंद्र सरकार कंगना रनोट का पद्मश्री वापस ले।'नवाब मलिक के अलावा भी और अन्य नेताओं ने भी अभिनेत्री से पुरस्कार वापस लिए जाने की आवाज उठाई है। बता दें कि एक टीवी पर एक कार्यक्रम के दौरान कंगना रनोट ने यह तक कह दिया था कि भारत को 2014 के बाद ही आजादी मिली, जब नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार सत्ता में आई। उनके इन सब बयान को लेकर काफी बवाल छिड़ा हुआ है।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने रनोट की टिप्पणी को 'चौंकाने वाला और अपमानजनक' करार दिया और राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द से रनोट को दिए गए पद्म पुरस्कार को वापस लेने का आग्रह किया। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने उनकी टिप्पणी को 'बेहूदा' बताया।हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी, जिनकी पार्टी बिहार में एनडीए के साथ गठबंधन में है, ने कहा कि सभी समाचार चैनलों को अब से अभिनेत्री का बहिष्कार करना चाहिए।

आम आदमी पार्टी ने मुंबई पुलिस को अर्जी देकर रनोट के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की है। आप की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य प्रीति शर्मा मेनन ने अभिनेत्री की टिप्पणी को 'देशद्रोही और भड़काऊ' करार दिया।