20 माह बाद करतारपुर कारिडोर खुला, या‍त्रियों के जाने का सिलसाला जारी, श्रद्धालुओं को सम्‍मानित कर विदा कर रहे अधिकारी

 


कारिडोर होकर पाकिस्‍ताान स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब रवाने होने के दाैरान जीरो प्‍वाइंट पर श्रद्धालु। (जागरण)
करतारपुर कारिडोर करीब 20 महीने के बाद आज खुल गया। यात्रियों का पहला जत्‍था आज कारिडोर से होकर पाकिस्‍तान स्थित श्री करतारपुर साहिब के लिए रवाना हुआ। पहले जत्‍थे में छह श्रद्धालु गए। आज कुल 70 श्रद्धालु वहां माथा टेकने जाएंगे।

चंडीगढ़/डेरा बाबा नानक (गुरदासपुर),। : पाकिस्‍तान स्थित श्री गुरुद्वारा करतारपुर साहिब में दशर्न के लिए करतारपुर कारिडोर को आज फिर खोल दिया गया।  छह यात्रियों का पहला जत्‍था डेरा नानक से कारिडोर होकर पाकिस्‍तान स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के लिए रवाना हुआ। इसके बाद श्रद्धालुओं के जाने का सिलसिला शुरू हो गया। कारिडोर से पाकिस्‍तान रवाना हो रहे श्रद्धालुओं को अधिकारियों ने सम्‍मानित भी किया।  बताया जाता है कि आज करीीब 70 श्रद्धालु माथा टेकने श्री करतारपुर साहिब जाएंगे। कोरोना के कारण यह कारिडोर पिछले करीब 20 माह से बंद था। केंद्र सरकार ने मंगलवार को इसे 17 नवंबर से खोलने की घोषणा की थी। 

कोरोना के कारण पैदा हालात के कारण इस कारिडोर को 16 मार्च, 2020 को बंद किया गया था। गुरु श्री नानकदेव के प्रकाश पर्व के मौके पर इस कारिडोर को खोलना सिख श्रद्धालुओं के लिए बड़ा तोहफा है। श्री गुरु नानकदेव का प्रकाश पर्व 19 नवंबर को है। काडिरोड के खुलने पर सीएम चरणजीत सिंह चन्‍नी और पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू सहित पंजाब की पूरी कैबिनेट गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब में माथा टेकने जाएगी।

jagran

गुरुद्वारा श्री करतार साहिब जाने के लिए डेरा बाबा नानक में कोरिडोर पर पहुंंचे श्रद्धालु।

श्री गुरु नानक देव जी के 552वें प्रकाश पर्व के केंद्र सरकार की ओर से 20 महीने बाद खोले गए श्री करतारपुर कॉरिडोर के दौरान बुधवार को डेरा बाबा नानक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बने पैसेंजर टर्मिनल से 70 के करीब श्रद्धालु पहले जत्थे में पाकिस्तान से गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब में दर्शन करेंगे। फिलहाल सुबह 10 बजे तक छह श्रद्धालु पैसेंजर टर्मिनल से सेहत विभाग की टीम से पल्स पोलियो की बूंदे पीने के बाद पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब को रवाना हुए हैं।

jagran

करतारपुर कॉरिडोर के अधिकारी करतारपुर साहिब जी के दर्शन करने जाने वाली महिला को सम्‍मानित करते हुए।

स्वास्थ्य विभाग के जिला टीकाकरण अधिकारी डा. अरविंद मनचंदा ने बताया कि पाकिस्तान पोलियो मुक्त न होने के कारण गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब जी को जाने वाले प्रत्येक श्रद्धालु को पल्स पोलियो की बूंदे पिलाई जा रही हैं । पैसेंजर टर्मिनल के माध्यम से गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं के लिए तीन हजार पोलियो की बूंदे उपलब्ध करवाई गई है।  

करतारपुर कारिडोर को खोलने को लेकर गुरदासपुर के डेरा बाबा नानक में बुधवार सुबह से गतिविधियां शुुरू हो गई है। कारिडोर को दोबारा खोलने की केंद्र सरकार की घोषणा का पंजाब में सभी वर्गों ने स्वागत किया है। श्री गुरुनानक देव जी के प्रकाश पर्व (19 नवंबर) से एक दिन पहले 18 नवंबर को पाकिस्तान स्थित श्री करतारपुर साहिब जाने वाले जत्थे में पंजाब की पूरी कैबिनेट समेत 50 लोग शामिल होंगे। पंजाब का जत्था मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अगुआई में जाएगा। उनके साथ मुख्य सचिव सहित कुछ अधिकारी, कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू भी होंगे। 

पंजाब के मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने करतारपुर कारिडोर खोलने के केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की घोषणा का हार्दिक स्‍वागत किया था। पंजाब कांग्रेस के अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू सहित अन्‍य राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी इसका स्‍वागत किया था।  शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल, पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अम¨रदर ¨सह ने भी करतारपुर कॉरिडोर को खोलने का स्वागत किया है। 

गौरतलब है कि करतारपुर कारिडोर को खोलने की मांग को लेकर पिछले दिनों भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्‍द, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के पास मुद्दा उठाया था। अश्वनी शर्मा ने भी प्रधानमंत्री का आभार जताया और कहा इस फैसले से लाखों लोगों की इच्छा पूरी हुई है।

वहीं, शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) की अध्यक्ष बीबी जगीर कौर ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि 19 नवंबर को जाने वाले जत्थे का सारा खर्च एसजीपीसी उठाएगी। 17 नवंबर से श्री करतारपुर साहिब में अखंड पाठ साहिब शुरू करवाया जाएगा और 19 नवंबर को इसके भोग डाले जाएंगे।