दिसंबर से राजधानी, शताब्दी समेत इन ट्रेनों में मिलेगा खाना, आनलाइन बुकिंग करने पर 50 रुपये की छूट

 

दिसंबर से शुरू होने जा रही है यह सुविधा
रेलवे ने कहा है कि यात्रा के दौरान कैटरिंग सुविधा लेने के लिए यात्री आनलाइन भुगतान कर सकते हैं। रेलवे की इस सुविधा से यात्रियों को 50 रुपये का फायदा होगा क्योंकि ट्रेन में भुगतान करने पर 50 रुपये एक्स्ट्रा देने होंगे।

नई दिल्ली, एएनआइ। डेढ़ साल से भी ज्यादा समय के बाद कैटरिंग सर्विस (catering Service) फिर से शुरू होने जा रही है। अब राजधानी, शताब्दी, दुरंतो, वंदे भारत तेजस और गतिमान ट्रेनों में सफर कर रहे यात्रियों को कुक्ड मील की सुविधा मिलेगी। बता दें कि कोरोना महामारी के कारण ट्रेनों में ये सेवाएं बंद कर दी गई थीं। यात्रियों को दिसंबर से इस सुविधा का फायद मिलना शुरू हो जाएगा। रेल मंत्रालय की कंपनी आइआरसीटीसी (IRCTC) 50 ट्रेनों में दिसंबर से कुक्ड मील की सुविधा शुरू करने जा रही है।

ट्रेन में भुगतान कर ले सकते हैं यह सर्विस

आमतौर पर इन ट्रेनों में टिकट बुकिंग के वक्त ही यात्रियों से भोजन का पैसा ले लिया जाता था। हालांकि कोरोना काल के चलते यह सुविधा बंद कर दी गई थी, लेकिन अब फिर से यह सुविधा बहाल की जा रही है। ऐसे में अगर किसी ने टिकट पहले ही बुक करवा ली है तो उन्हें भोजन का पैसा चुका कर यह सुविधा लेने का विकल्प दिया गया है। इसके अलावा यात्री एक्सेस फेयर टिकट वाली पर्ची के द्वारा खाने का शुल्क टीटीई को चुका सकते हैं। इस स्थिति में आपको भोजन की कीमत के अलावा अतिरिक्त 50 रुपये भी चुकाने होंगे।

ऐसे बचा सकते हैं 50 रुपये

रेलवे ने कहा है कि यात्रा के दौरान कैटरिंग सुविधा लेने के लिए यात्री आनलाइन भुगतान कर सकते हैं। रेलवे की इस सुविधा से यात्रियों को 50 रुपये का फायदा होगा, क्योंकि ट्रेन में भुगतान करने पर 50 रुपये एक्स्ट्रा देने होंगे। आनलाइन शुल्क जमा करने की सुविधा के लिए रेलवे का इंफोर्मेशन टेक्नोलाजी आर्म क्रिस साफ्टवेयर डेवलप कर रहा है। इसके लिए आइआरसीटीसी भी कुछ व्यवस्था कर रहा है।