दीवाली की रात ताश खेल रहे युवकों से लूटपाट करने वाले तीन बदमाश चढे़ पुलिस के हत्थे

 

Delhi Crime News: सदर बाजार निवासी आशीष कोहली अपने तीन रिश्तेदारों के साथ घर के बहार ताश खेल रहे थे।
 दीवाली की रात ताश खेल रहे चार युवकों से चार बदमाशों द्वारा लूटपाट करने के मामले में सदर बाजार थाना पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है । गिरफ्तार बदमाश अक्षय कृष्णा सागर हैं। मामले में शामिल एक बदमाश ऋषि फरार चल रहा है।

नई दिल्ली। दीवाली की रात ताश खेल रहे चार युवकों से चार बदमाशों द्वारा लूटपाट करने के मामले में सदर बाजार थाना पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है । गिरफ्तार बदमाश अक्षय, कृष्णा, सागर हैं। मामले में शामिल एक बदमाश ऋषि फरार चल रहा है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि दीवाली की रात सदर बाजार निवासी आशीष कोहली अपने तीन रिश्तेदारों के साथ घर के बहार ताश खेल रहे थे।

इस दौरान रात की करीब सवा एक बजे चार बदमाश वहां पहुंचे और चाकू दिखाकर लूटपाट की कोशिश करने लगे ।जब पीड़ितों ने विरोध किया तो उपके साथ मारपीट भी की गई। बदमाशों ने पीड़ितों से करीब नौ हजार रुपये व एक मोबाइल फोन लूट कर फरार हो गए। मामले की जांच के लिए एसीपी प्रज्ञा आनंद के देखरेख में इंस्पेक्टर केएल यादव के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया।

जांच में पता चला कि बदमाश घटनास्थल पर दो स्कूटी से आए थे। जिसे वह वारदात के बाद वहीं छोड़कर फरार हुए थे। एक स्कूटी अक्षय व दूसरी कृष्णा के नाम पर थी।इसके बाद पुलिस टीम ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में सागर व ऋषि की भूमिका सामने आई। ऐसे में पुलिस टीम ने सागर को भी गिरफ्तार कर लिया। वहीं आरोपित ऋषि फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

वहीं, एक अन्य मामले में जहांगीरपुरी इलाके में घर पर पत्थर फेंकने पर बदमाश ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली लगने से दो युवक घायल हो गए। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान नमन शर्मा के रूप में हुई है। उसे बहादुरगढ़ में हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा चुकी है। वह जमानत पर जेल से बाहर था।

शनिवार दोपहर को जहांगीरपुरी एच ब्लाक में हुई अंधाधुंध फायरिंग में दो युवक घायल हो गए। स्पेशल स्टाफ एसीपी सतीश दहिया की देखरेख में इंस्पेक्टर अमित कुमार की टीम को जांच सौंपी गई। शुरुआती जांच में सामने आया कि नमन उर्फ सन्नी ने घटना को अंजाम दिया है। टीम में शामिल एसआइ कुलदीप ने इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाले तो मालूम हुआ कि नमन ने फायरिंग की है।

टीम ने देर शाम तक उसे वारदात में प्रयुक्त हथियार समेत गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने बताया कि वह अपने दोस्त के साथ घर में शराब पी रहा था। शमसुद्दीन एवं नसीम ने भी पार्टी में शामिल होने की जिद की और जब नमन ने दरवाजा नहीं खोला तो दोनों मकान पर ईंट पत्थर फेंकने लगे। इससे नाराज होकर उसने अंधाधुंध फायरिंग कर दी।