कोरोना की पांचवीं लहर के मुहाने पर फ्रांस, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने चेताया- ये पिछली लहरों से ज्‍यादा खतरनाक

 

फ्रांस में अब तक कोरोना संक्रमण के 73 लाख 46 हजार केस दर्ज किए जा चुके हैं
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री वेरन ने कहा कि बुधवार को देशभर में कोरोना के 11 हजार 883 मामले सामने आए। ये लगातार दूसरा दिन है जब देश में कोविड-19 के 10 हजार से ज्‍यादा केस दर्ज किए गए हैं। देश में कोरोना संक्रमण के मामले अक्‍टूबर मध्‍य से हफ्ते-दर-हफ्ते बढ़ रहे हैं।

पेरिस, रायटर। कोरोना वायरस संक्रमण एक बार फिर गंभीर रूप लेता नजर आ रहा है। फ्रांस कोरोना महामारी की पांचवीं लहर के मुहाने पर पहुंच गया है। जानकारों का मानना है कि फ्रांस में महामारी की यह पांचवीं लहर पहले से कहीं ज्‍यादा खतरनाक साबित हो सकती है। हालांकि, फ्रांस के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ओलिवियर वेरन का कहना है कि ये लहर पहले से खतरनाक जरूर प्रतीत हो रही है, लेकिन हम कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन कर इसका सामना कर सकते हैं।

फ्रांस के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने स्‍थानीय मीडिया संस्‍थान को बताया कि देश में कोरोना महामारी का कहर अभी समाप्‍त नहीं हुआ है। इसलिए लोगों को बेहद सर्तक रहने की जरूरत है। इस समय हम बेहद नाजुक मोड़ पर खड़े हैं। देश में कोरोना महामारी की पांचवीं लहर शुरू होने जैसे हालात बनते दिख रहे हैं। हमारे पड़ोसी देशों में कोरोना महामारी की नई लहर आ चुकी है। इससे यह संभावना जताई जा रही है कि देश में भी यह जल्‍द दस्‍तक दे देगी। परेशानी वाली बात यह है कि उपलब्‍ध आंकड़ों के मुताबिक, ये लहर पहले से कहीं ज्‍यादा खतरनाक नजर आ रही है। इसलिए थोड़ी-सी भी लापरवाही बेहद मुश्किल खड़ी कर सकती है। हम लोगों से अपील कर रहे हैं कि कोरोना नियमों का पालन करें।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री वेरन ने कहा कि बुधवार को देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के 11 हजार 883 मामले सामने आए। ये लगातार दूसरा दिन है, जब देश में कोविड-19 के 10 हजार से ज्‍यादा केस दर्ज किए गए हैं। उन्‍होंने बताया कि देश में कोरोना संक्रमण के मामले अक्‍टूबर मध्‍य से हफ्ते-दर-हफ्ते बढ़ रहे हैं। ओलिवियर ने कहा कि ज्यादा वैक्सीनेशन, मास्‍क और स्वच्छता उपायों के साथ हम पांचवीं लहर का सामना मजबूती के साथ कर सकते हैं। ऐसा भी संभव है कि हम इस महामारी को पूरी तरह से हरा दें।

jagran

उल्‍लेखनीय है कि फ्रांस में अब तक कोरोना संक्रमण के 73 लाख 46 हजार केस दर्ज किए जा चुके हैं। कोरोना की वजह से फ्रांस में 1 लाख 19 हजार से ज्यादा लोगों की मृत्‍यु हो चुकी है। जानकारों का मानना है कि अगर पांचवीं लहर ने कहर बरपाया, तो हालात काफी बिगड़ सकते हैं। इस दौरान काफी लोगों की जान जा सकती है।