गजब! कार है नहीं, नो पार्किंग का कर दिया चालान; जानिए कहां का है मामला

 

यातायात पुलिस की ओर से काटा गया एक चालान रिसीव करवाया।
शनिवार सुबह कोटद्वार कोतवाली से एक पुलिस कर्मी नगर निगम में तैनात नवीन सिंह सजवाण के पास पहुंचा और उन्हें यातायात पुलिस की ओर से काटा गया एक चालान रिसीव करवाया। चालान देख नवीन के पैरों तले जमीन खिसक गई।

 संवाददाता, कोटद्वार (पौड़ी गढ़वाल): पौड़ी गढ़वाल जिले में यातायात पुलिस अपने कार्यों को लेकर किस कदर चौकस है, कोटद्वार नगर निगम में तैनात एक कर्मी के पास पहुंचे नो पार्किंग चालान को देखकर इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। दरअसल, इस कर्मचारी के पास कार है ही नहीं। साथ ही जिस शहर में नो पार्किंग का चालान काटा गया है, वहां यह कर्मचारी पिछले कई वर्षों से नहीं गया है।

दरअसल, शनिवार सुबह कोटद्वार कोतवाली से एक पुलिस कर्मी नगर निगम में तैनात नवीन सिंह सजवाण के पास पहुंचा और उन्हें यातायात पुलिस की ओर से काटा गया एक चालान रिसीव करवाया। चालान देख नवीन के पैरों तले जमीन खिसक गई। दरअसल, चालान के अनुसार नवीन ने बीती आठ सितंबर को अपनी कार श्रीनगर (गढ़वाल) में नो पार्किंग एरिया में खड़ी की हुई थी। इसके बाद दिलचस्प बात यह है कि नवीन के पास कोई कार नहीं है और न ही पिछले लंबे समय से वे श्रीनगर की ओर गए। ऐसे में किस तरह उनके नाम पर चालान काटा गया, यह हैरानी की बात है। नवीन ने यह बात पुलिसकर्मी को बताई। लेकिन, पुलिस कर्मी ने उनकी एक नहीं सुनी। साथ ही यह भी चेतावनी दे डाली कि यदि जल्द चालान का भुगतान नहीं किया तो चालान को न्यायालय में भेज दिया जाएगा।

इधर, यातायात निरीक्षक शिव कुमार ने बताया कि मामला उनकी जानकारी में आ गया है। उन्‍होंने यह बताया कि साफ्टवेयर में आई तकनीकी दिक्कत के कारण कई मर्तबा इस तरह की समस्याएं आ जाती हैं। बताया कि चालान में संशोधन कर वास्तविक कार मालिक को भेजा जाएगा।