नानकहेड़ी व राघोपुर गांव के हर वयस्क ग्रामीण का नाम अब मतदाता सूची से जुड़ा

 


दिल्ली के दो ऐसे गांव है जहां का हर एक वयस्क अब मतदाता सूची से जुड़ चुका है।
मटियाला विधानसभा क्षेत्र के एइआरओ मुकेश कुमार ने बताया कि दोनों गांव में कुल मतदाताओं की संख्या 767 है। जिसमें नानकहेड़ी गांव में 692 और राघोपुरा में 75 मतदाता हैं। नियम के मुताबिक 1500 मतदाताओं पर एक मतदान केंद्र बनाया जाता है।

नई दिल्ली । मटियाला विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत नानकहेड़ी व राघोपुर गांव दिल्ली के दो ऐसे गांव है जहां का हर एक वयस्क अब मतदाता सूची से जुड़ चुका है। दक्षिण-पश्चिमी जिला प्रशासन के अनुसार नेताजी सुभाष प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (एनएसयूटी) की राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) टीम के साथ मिलकर सर्वे किया गया था, जिसमें उन तमाम वयस्क व्यक्ति जिनका नाम मतदाता सूची में नहीं था, उन्हें जोड़ा गया। हालांकि, अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है, पर सूत्रों की माने तो विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के समापन के बाद नववर्ष में चुनाव आयोग स्वयं इसकी आधिकारिक घोषणा कर सकता है। आगामी निगम चुनाव में मतदान फीसद बढ़ाने की दिशा में जिला प्रशासन का यह अहम कदम है।

घर-घर दी दस्तक

नएसएस के संयोजक प्रवीन सराेहा ने बताया कि पिछले वर्ष ही एनएसयूटी ने नानकहेड़ी गांव को गोद लिया था और तब से विश्वविद्यालय की एनएसएस टीम गांव में शिक्षा, स्वच्छता व अन्य सामाजिक विषयों पर लगातार काम कर रहा है। जिला प्रशासन के नेतृत्व में एनएसएस की टीम ने 21 नवंबर को नानकहेड़ी व राघोपुर गांव में हर घर सर्वे किया था। जिसमें टीम के सदस्य घर-घर लोगों से बात की कि उनके घर में कितने सदस्य हैं, उनमें कितने वयस्क हैं और कितने मतदाता सूची से जुड़े हैं? परिवार के जिन सदस्याओं ने मतदाता पहचान पत्र होने की बात कहीं, उनके पहचान पत्र की जांच कर उस बात की पुष्टि भी की गई। इसमें प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई गई मतदाता सूची से भी काफी सहायता मिली।

मतदाता पहचान पत्र के लिए किया गया प्रेरित

सर्वे के दौरान ऐसे कई वयस्क सामने आएं जो 1 जनवरी 2022 को 18 वर्ष के हो जाएंगे व इस वर्ष 18 वर्ष के हो चुके है, उन सभी को मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए प्रेरित किया गया। उन्हें समझाया गया कि एक-एक वोट कितना कीमती है और उनका एक मत देश की दिशा और दशा बदलने में किस तरह मददगार है। इन सभी वयस्कों का वोटर हेल्पलाइन एप के माध्यम से फार्म-6 भरा जा चुका है, ताकि 1 जनवरी 2022 को प्रकाशित होने वाली अपडेट मतदाता सूची में उनका भी नाम शामिल हो सके। एनएसएस टीम के सदस्य अनुज ने बताया कि सर्वे के दौरान 160 घरों में दस्तक दी गई, जहां कम से कम दो-दो लोगों से मुलाकात हुई। सर्वे के नतीजों के आधार पर तैयार की गई रिपोर्ट को जिला प्रशासन को सौंप दी गई है।

दोनों गांव में है 767 कुल मतदाता

मटियाला विधानसभा क्षेत्र के एइआरओ मुकेश कुमार ने बताया कि दोनों गांव में कुल मतदाताओं की संख्या 767 है। जिसमें नानकहेड़ी गांव में 692 और राघोपुरा में 75 मतदाता हैं। नियम के मुताबिक 1500 मतदाताओं पर एक मतदान केंद्र बनाया जाता है, ऐसे में फिलहाल दोनों गांव के मतदाताओं पर एक ही मतदान केंद्र बना हुआ है। एक नवंबर से जारी विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत यहां कुल 30 नए मतदाताओं को और जोड़ा गया। जिसमें नानकहेड़ी गांव के 23 और राघोपुरा गांव के सात मतदाता शामिल है। एक जनवरी 2022 को प्रकाशित होने वाली नई मतदाता सूची में इन नए मतदाताओं के नामों को शामिल कर लिया जाएगा।

क्या कहते हैं एसडीएम

एनएसयूटी की एनएसएस टीम का प्रयास सराहनीय है, पर किसी भी तरह की आधिकारिक घोषणा से पूर्व जिला प्रशासन अपने स्तर पर भी एक पुन: जांच करेगा। इसके लिए एइआरओ व बूथ लेवल आफिसर के साथ विचार-विमर्श जारी है।

अनुपमा चक्रवर्ती, एसडीएम (चुनाव), दक्षिण-पश्चिम

जिला
Popular posts
आमना शरीफ ने ब्लैक ब्रालेट पहन बीच पर 'बोल्ड' अंदाज में किया पोज, तस्वीरें देख ट्रोलर्स ने कहा, 'आप कहां की शरीफ है'
Image
अयान मुखर्जी ने शेयर कीं 'ब्रह्मास्त्र' की शूटिंग की 5 तस्वीरें, तीसरी तस्वीर से लीक हुआ रणबीर कपूर के पौराणिक किरदार का लुक?
Image
दिल्ली में बर्बाद हो चुकी फसल के लिए किसानों को मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार, भाजपा ने लिया क्रेडिट
Image
खुद को पानी और आग आग का मिश्रण मानती हैं ईशा सिंह, 'सिर्फ तुम' से डेढ़ साल बाद लौटीं टीवी पर
Image
सिर्फ 9 लाख रुपये में ग्रेटर नोएडा में पाएं अपना घर, जानिये- कीमत, ड्रा और पजेशन के बारे में
Image