रोहतांग दर्रा बना टूरिस्‍ट प्‍वाइंट, बर्फ की मोटी परत के बीच मस्‍ती कर रहे सैलानी, देखिए वीडियो

 

रोहतांग दर्रे में बिछी बर्फ की मोटी परत ने दर्रे की रौनक को लौटा दिया है
 रोहतांग दर्रे में बिछी बर्फ की मोटी परत ने दर्रे की रौनक को लौटा दिया है। अटल टनल बनने के बाद रोहतांग के बजाय टनल सैलानियों की पहली पसंद बनी है। इन दिनों मोटी बर्फ की परत बिछने से सैलानियों की पहली पसंद रोहतांग दर्रा बना हुआ है।

मनाली,  रोहतांग दर्रे में बिछी बर्फ की मोटी परत ने दर्रे की रौनक को लौटा दिया है। अटल टनल बनने के बाद रोहतांग के बजाय टनल सैलानियों की पहली पसंद बनी है। लेकिन इन दिनों दो फीट मोटी बर्फ की परत बिछने से मनाली आने वाले अधिकतर सैलानियों की पहली पसंद रोहतांग दर्रा बना हुआ है। हालांकि रोहतांग में बर्फ अधिक होने के कारण दर्रे तक वाहन नहीं पहुंच रहे हैं। दर्रे से तीन किलोमीटर पहले ही वाहनों के पहिये जाम हो रहे हैं।

jagran

रोहतांग के चारों ओर बिछी बर्फ की चांदी में दिन भर पर्यटक बर्फ के बीच अठखेलियां कर रहे हैं। दर्रे में पर्यटक स्नो स्लेज, स्नो स्कूटर, स्नो ट्यूब, माउंटेन बाइक सहित फोटोग्राफी का आनंद ले रहे हैं। पर्यटकों का मेला लगने से स्थानीय कारोबारियों का भी कारोबार चल पड़ा है। पर्यटन स्थल मढ़ी में पर्यटक बर्फ़ीली हवाओं में खिली धूप के बीच नाश्ते व दोपहर के भोजन का आनंद ले रहे हैं।

jagran

होटलों में हुई एडवांस बुकिंग के कारण 15 नम्बर तक कारोबार बेहतर रहने की उम्मीद है। हालांकि दशहरा पर्व के दौरान कम ही सैलानी कुल्लू आए। लेकिन दीपावली के बाद कुल्लू मनाली में पर्यटकों की आमद बढ़ी है। होटल कारोबारी विम्पी बख्‍शी, अभिनव नंदा, सुशील, राजू व रवि व्यास ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से पर्यटकों की आमद में इजाफा हुआ है। उन्होंने बताया होटलों में अक्यूपेंसी भी बढ़ी है। ट्रेवल एजेंट सुरेश, सोनू शर्मा व प्रीतम ने बताया कि 15 नवंबर तक बुकिंग बेहतर रहने से कारोबार के भी बेहतर रहने की उम्मीद है।

होटल एसोसिएशन मनाली के अध्यक्ष मुकेश ठाकुर ने कहा मनाली आने वाले पर्यटकों की सुख सुविधा का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। उन्होंने बताया हर एक होटल में अतिथि देवो भवः की तर्ज और पर्यटकों  का स्वागत किया जा रहा है। पर्यटन स्थलों में भी पर्यटकों को कोई दिक्कत न हो, इसका भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

jagran

एसडीएम मनाली डाक्टर सुरेंद्र ठाकुर ने कहा रोहतांग दर्रा सैलानियों के लिए खुला है। उन्होंने बताया परमिट प्राप्त वाहनों को ही रोहतांग भेजा जा रहा है। सभी पर्यटन स्थलों पर पर्यटकों की आवाजाही मौसम पर ही निर्भर रहेगी।