अरविंद केजरीवाल की अपील, रामलला का दर्शन करने के लिए करें रजिस्ट्रेशन

 

अरविंद केजरीवाल की अपील, रामलला का दर्शन करने के लिए करें रजिस्ट्रेशन
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि रामलला के दर्शन के लिए तीन दिसंबर को पहली ट्रेन अयोध्या के लिए रवाना होगी। अयोध्या दर्शन के लिए इच्छुक दिल्ली के पात्र लोग ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर जाकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

नई दिल्ली। दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार की ‘मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा’ के तहत अब बुजुर्ग अयोध्या में राम लला के दर्शन के लिए जा सकेंगे। अगले महीने 3 दिसंबर से यह यात्रा शुरू होने जा रही है। बुधवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रामलला का दर्शन करने के इच्छुक दिल्ली के बुजुर्गों को अधिक से अधिक आवेदन करने की अपील की। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि रामलला के दर्शन के लिए तीन दिसंबर को पहली ट्रेन अयोध्या के लिए रवाना होगी। अयोध्या दर्शन के लिए इच्छुक दिल्ली के पात्र लोग ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर जाकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं। तीर्थ यात्रियों की संख्या अधिक होने पर हम दूसरी ट्रेन लगाएंगे, लेकिन मैं हर एक को रामलला के दर्शन कराकर लाउंगा। भगवान मुझे इतनी शक्ति और योग्यता दे कि मैं देश के हर व्यक्ति को अयोध्या के दर्शन करा सकूं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ईसाई भाइयों को खुशखबरी देते हुए कहा कि हम बहुत जल्द वेलंकन्नी को भी तीर्थ यात्रा की सूची में शामिल करने जा रहे हैं। जिसके बाद ईसाई भाई भी अपनी मर्जी के मुताबिक मुफ्त तीर्थ यात्रा कर सकेंगे।

दिल्ली में अभी तक 36 हजार लोग मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना का उठा चुके हैं लाभ

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज एक महत्वपूर्ण प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली के लोगों के लिए आज एक खुशखबरी है। मैं पिछले महीने अयोध्या गया था। वहां पर श्रीराम चंद्र जी के रामलला के दर्शन हुए और बहुत अच्छा लगा। जब मैं वहां से बाहर निकला तो मन में एक भाव आया कि हे भगवान! मुझे इतनी शक्ति और योग्यता देना कि मैं देश के हर व्यक्ति को अयोध्या के दर्शन करा सकूं। हमारी ‘मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा’ योजना में शामिल 12 जगहों पर अपने बुजुर्ग तीर्थ यात्रा करने जा सकते हैं। इन 12 जगहों में से कोई भी व्यक्ति किसी भी स्थान को चुन सकता है। इसमें हम पुरी, द्वारकाधीश, हरिद्वार, रामेश्वरम, शिरडी और अजमेर समेत कई जगह ले जाते हैं। अयोध्या से वापस दिल्ली आते ही हमने ‘मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा’ योजना में अयोध्या को भी शामिल कर लिया। इस तीर्थ यात्रा योजना में दिल्ली का रहने वाला कोई भी बुजुर्ग इसका लाभ उठा सकता है। वह अपने साथ अटेंडेंट के तौर पर अपने घर के किसी एक युवा आदमी को भी लेकर जा सकता है। एक बुजुर्ग के साथ एक युवा व्यक्ति को जाने की अनुमति है। हम तीर्थ यात्रियों को एसी ट्रेन से लेकर जाते हैं और अच्छे एसी होटल में ठहराते हैं। वहां पर स्थानीय ट्रांसपोर्ट और खाना समेत सब खर्च दिल्ली सरकार वहन करती है। दिल्ली में अभी तक 36 हजार लोग इसका लाभ उठा चुके हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना में हमने अयोध्या को भी शामिल किया है। आज मुझे यह कहते हुए बेहद खुशी हो रही है कि दिल्ली से अयोध्या के लिए पहली ट्रेन तीन दिसंबर को जाएगी। उसके लिए पंजीकरण शुरू हो गए हैं। अयोध्या जाने के लिए इच्छुक पात्र लोग हमारे दिल्ली सरकार के ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर जाकर पंजीकरण करा सकते हैं। आप लोग इसकी चिंता मत करना कि पंजीकरण ज्यादा हो जाएंगे, तो आप रह जाएंगे। मैं हर एक को दर्शन करा कर लाउंगा। अगर ज्यादा लोग हो गए, तो दूसरी ट्रेन लगा देंगे। इससे भी ज्यादा लोग हो गए, तो तीसरी ट्रेन लगा देंगे। दूसरी ट्रेन हफ्ते भर बाद चली जाएगी, लेकिन सबको लेकर जाएंगे। इसलिए रामलला के दर्शन के लिए सब लोग आवेदन करें। मैं चाहता हूं कि ज्यादा से ज्यादा लोग अयोध्या जी के दर्शन करने के लिए जाएं।