दिल्ली में निगम चुनाव की तैयारी शुरू, समय से पहले पेश होंगे बजट

 

प्रैल में होने हैं तीनों निगम में आम चुनाव, 2017 में 14 मार्च को लागू हुई थी आचार संहिता
26 नंवबर के बीच तीनों निगम में निगमायुक्त द्वारा बजट पेश करने से प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। जिसे हर हाल में 14 फरवरी से पूर्व पूरा करना है। आम तौर पर शुरू होने वाले इस प्रक्रिया को 15 दिन पूर्व शुरू किया गया है।

नई दिल्ली । राजधानी के तीनों नगर निगम में आम चुनाव की तैयारी शुरू हो गई है। यही वजह है कि इस वर्ष समय से पूर्व बजट प्रक्रिया को पूरा करने की कवायद शुरू हो गई है। 23 से 26 नंवबर के बीच तीनों नगर निगम में निगमायुक्त द्वारा बजट पेश करने से प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। जिसे हर हाल में 14 फरवरी से पूर्व पूरा करना है। आम तौर पर शुरू होने वाले इस प्रक्रिया को 15 दिन पूर्व शुरू किया गया है। अक्सर 10 दिसंबर तक इसे शुरू किया जाता है। ऐसे में माना जा रहा है कि निगम के चुनाव अप्रैल के दूसरे व तीसरे सप्ताह में हो सकते हैं।

तीनों नगर निगम में सूचना एवं प्रचार निदेशालय बजट को तैयार करने में जुटे हुए हैं। विभागों की उपलब्धियों से लेकर नई घोषणा को प्रमुखता से बजट में शामिल किया जाएगा। इतना ही चुनाव से पूर्व कई लोकलुभावन घोषणाएं भी बजट में देखने को मिल सकती है। मिली जानकारी के मुताबिक सबसे पहले दक्षिणी निगम के निगमायुक्त बजट पेश करेंगे। इसके लिए 23 नंवबर दक्षिणी निगम की विशेष स्थायी समिति की बैठक होगी।दक्षिणी निगम के बाद उत्तरी निगम के आयुक्त संजय गोयल 25 नंवबर को बजट पेश करेंगे। पूर्वी निगम के आयुक्त विकास आनंद 26 नंवबर को स्थायी समिति की विशेष बैठक में बजट रखेंगे।

उल्लेखनीय है कि निगम एक्ट के अनुसार, 10 दिसंबर तक निगमायुक्त को स्थायी समिति में बजट पेश करना होता है। इसके बाद वार्ड समितियों व स्थायी समिति से चर्चा के बाद 25 दिसंबर तक सदन में भेजना होता है। निगमों को हर हाल में 14 फरवरी तक अपने कर स्पष्ट करने होते हैं। इसलिए इससे पूर्व ही बजट की प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाता है।

संपत्तिकर बढोत्तरी के प्रस्ताव

तीनों निगम इस बार बुरे आर्थिक हालातों से जूझ रहे हैं इसको देखते हुए निगमायुक्त संपत्तिकर में बढोत्तरी का एक बार फिर प्रस्ताव रख सकते हैं। हालांकि हर बार की तरह इन्हें मंजूरी मिलने की संभावना कम है। चुनावी वर्ष में तो यह भी बिल्कुल संभव नहीं है।

2016 में 14 मार्च को लागू हुई थी आचार संहिता

निगम के आम चुनाव की बात करें तो अप्रैल माह में इसे हर हाल में पूरा करना होता है। एक्ट के अनुसार अप्रैल माह की जो भी पहली बैठक होती है तो उसमें ही महापौर व उप महापौर का चुनाव संपन्न कराया जाता है। वर्ष 2017 के आम चुनाव की बात करें तो 14 मार्च को आचार संहिता लागू हुई थी। तीन अप्रैल तक नामांकन हुए थे जबकि 22 अप्रैल को चुनाव हुए थे और 25 अप्रैल को मतगणना हुई थी। बीते चुनाव में तीनों नगर निगम में भाजपा ने तीसरी बार सत्ता पर कब्जा किया था।

पूर्वी निगम की 64 सीटों में भाजपा ने 47 सीटों पर जीत दर्ज की थी। इसी तरह उत्तरी व दक्षिणी निगम की 104-104 सीटों में से 64 व 70 सीटों पर जीत दर्ज की थी। आम आदमी पार्टी दूसरे नंबर की पार्टी बनकर उभरी थी जबकि कांग्रेस तीसरे स्थान पर थी।

Popular posts
आमना शरीफ ने ब्लैक ब्रालेट पहन बीच पर 'बोल्ड' अंदाज में किया पोज, तस्वीरें देख ट्रोलर्स ने कहा, 'आप कहां की शरीफ है'
Image
अयान मुखर्जी ने शेयर कीं 'ब्रह्मास्त्र' की शूटिंग की 5 तस्वीरें, तीसरी तस्वीर से लीक हुआ रणबीर कपूर के पौराणिक किरदार का लुक?
Image
दिल्ली में बर्बाद हो चुकी फसल के लिए किसानों को मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार, भाजपा ने लिया क्रेडिट
Image
खुद को पानी और आग आग का मिश्रण मानती हैं ईशा सिंह, 'सिर्फ तुम' से डेढ़ साल बाद लौटीं टीवी पर
Image
सिर्फ 9 लाख रुपये में ग्रेटर नोएडा में पाएं अपना घर, जानिये- कीमत, ड्रा और पजेशन के बारे में
Image