नोटबंदी के पांचवें वर्ष पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लॉन्च किया समाजवादी इत्र

 


वर्ष 2022 में यह समाजवादी इत्र नफरत को खत्म करेगा
 सपा के कुनबा बढ़ाओ अभियान में बेहद सक्रियता से लगे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को समाजवादी इत्र लॉन्च किया। एमएलसी पुष्पराज जैन ने इत्र के लॉन्च के मौके पर कहा कि वर्ष 2022 में यह परफ्यूम नफरत को खत्म करेगा।

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सपा के कुनबा बढ़ाओ अभियान में बेहद सक्रियता से लगे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को समाजवादी इत्र लॉन्च किया है। देश में नोटबंदी की पांचवीं वर्षगांठ पर समाजवादी पार्टी के राज्य मुख्यालय में अखिलेश यादव ने समाजवादी इत्र भी लॉन्च किया।

माना जा रहा है कि समाजवादी पार्टी ने विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी को महकाने के लिए समाजवादी इत्र को मैदान में उतारा है। अखिलेश यादव ने केन्द्र के साथ उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार की नीतियों पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि इस कारण आत्महत्या बढ़ी है। छात्र-नौजवानों ने आत्महत्या की है। किसानों ने आत्महत्या की है। कोई जवाब है सरकार के पास। व्यापारियों ने बड़े पैमाने पर आत्महत्या कर ली। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के जरिए बड़े लोगों को ही फायदा हुआ। आम लोगों को कुछ भी फायदा नहीं हुआ। 

नफरत खत्म करेगा यह इत्र समाजवादी पार्टी के एमएलसी पुष्पराज जैन ने समाजवादी इत्र के लॉन्च के मौके पर कहा कि वर्ष 2022 में यह समाजवादी इत्र नफरत को खत्म करेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नफरत की राजनीति की जा रही है। उसे खत्म करने में यह इत्र कारगर साबित होगा। अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी मामले में सुप्रीम कोर्ट की ओर से आए आदेश पर भी प्रदेश सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि कोर्ट के आदेश से कानून व्यवस्था की स्थिति का अंदाजा लगा सकते हैं।