पुंछ के कृष्णा घाटी में आतंकी दिखे, सुरक्षाबलों ने शुरू किया तलाशी अभियान

 

आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलते ही सुरक्षाबलों का क्षेत्र में तलाशी अभियान जारी है।
पुंछ के कृष्णा घाटी इलाके में आतंकियों के दिखने के बाद सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान छेड़ दिया है। हालांकि अभी तक यह सूचना नहीं मिली है कि क्षेत्र में कितने आतंकी दिखे हैं लेकिन आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलते ही सुरक्षाबलों का क्षेत्र में तलाशी अभियान जारी है।

जम्मू। पुंछ में एलओसी से सटे कृष्णा घाटी इलाके में आतंकियों के दिखने के बाद सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान छेड़ दिया है। हालांकि अभी तक यह सूचना नहीं मिली है कि क्षेत्र में कितने आतंकी दिखे हैं लेकिन आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलते ही सुरक्षाबलों का क्षेत्र में तलाशी अभियान जारी है। अन्य विवरण प्रतीक्षारत हैं। 

जानकारी के अनुसार, पुंछ में एलओसी के समीप सटे कृष्णा घाटी इलाके में सीमा पार पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की आशंका है। सुरक्षाबलों को कृष्णा घाटी इलाके में संदिग्ध लोगों के घूमने की जानकारी मिली। इसके तुरंत बाद कृष्णा के आसपास के सटे इलाकों में सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान छेड़ दिया है। इस तलाशी अभियान में स्थानीय पुलिस की भी सहायता ली गई है। चूंकि यह क्षेत्र घने जंगलों से भरा है। यही वजह है कि सुरक्षा बल इस क्षेत्र के चप्पे-चप्पे को पूरी तरह से खंगालने में जुटे हैं ताकि अगर कोई आतंकी उन्हें दिखता है तो उसके खिलाफ अंधेरा होने से पहले कार्रवाई की जा सके।

यहां यह बता दें कि भारत और पाकिस्तान के बीच संघर्ष विराम को करीब-करीब नौ महीने का समय बीत चुका है। राजौरी और पुंछ जिला में स्थित एलओसी में सीमा पार पाकिस्तान की ओर से बिना अकारण की गोलाबारी भी बंद है लेकिन पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ करवाने की कोशिशें लगातार जारी हैं। यही वजह है कि इन दोनों सीमावर्ती जिलों राजौरी और पुंछ में पिछले कुछ महीनों में अचानक आतंकवादी घटनाओं में वृद्धि दर्ज की गई है। गत आठ जुलाई को सुंदरबनी के डादल इलाके में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़ हुई थी। इसमें सेना के दो जवान शहीद हो गए थे जबकि तीन आतंकियों को मार गिराने में सफलता मिली थी। इसके उपरांत अभी तक कुला मिलाकर इन सीमावर्ती क्षेत्रों में आतंकी मुठभेड़ की सात घटनाएं हो चुकी हैं। इनमें नौशहरा में एलओसी के समीप सटे कलाल में एक आतंकी को मार गिराने की घटना भी शामिल है।