जेपी नड्डा और सीएम योगी के कानपुर आगमन पर कांग्रेस का प्रदर्शन, महंगाई के मुद्​दे विरोध करने पहुंचे थे कार्यकर्ता

 

महिला कांग्रेस की अध्यक्ष करिश्मा ठाकुर को हिरासत में लेती पुलिसकर्मी।
पुलिसर्मियों ने करिश्मा ठाकुर के आवास रतन लाल नगर पर उन्हें नजरबंदकरने की कोशिश की। जब कांग्रेस कार्यकर्ता मुख्यमंत्री के विरोध में नारेबाजी करते हुए आगे बढ़े तो पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। इस दौरान पुरुष पुलिसकर्मियों और महिला कार्यकर्ताओं के बीच नोक-झोंक हुई।

कानपुर, संवाददाता। बढ़ती महंगाई और महिला अपराध के विरोध में मंगलवार को महिला कांग्रेस अध्यक्ष करिश्मा ठाकुर के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कानपुर आगमन पर विरोध प्रदर्शन किया।

इससे पहले सुबह ही पुलिसर्मियों ने करिश्मा ठाकुर के आवास रतन लाल नगर पर उन्हें हाउस अरेस्ट करने की कोशिश की।  

कांग्रेसियों और पुलिस की झडप: कांग्रेस ग्रामीण जिलाध्यक्ष समेत कांग्रेसियों को हिरासत में लिया: जिले में खाद की किल्लत व धान खरीद में हो रही धांधली की समस्या को लेकर कांग्रेस ग्रामीण जिला अध्यक्ष अमित पांडेय के नेतृत्व में सैकडें कार्यकर्ता जबरन मुख्यमंत्री से मिलने जा रहे थे। मंधना चौराहे पुलिस ने रोका तो कांग्रेसियों ने हंगामा कर जमकर नारेबाजी की। इस दौरान उनकी पुलिस से झड़प भी हो गई। मंधना चौकी इंचार्ज ने रस्सी लगाकर सभी रोक लिया जिससे पुलिस की ग्रामीण जिला अध्यक्ष अमित पांडेय से झड़प हो गई। इसके बाद पुलिस ने जीप में डालकर बिठूर थाने भेज दिया।  बिठूर में नगर पंचायत के अधिशासी अभियन्ता विनय कुमार शुक्ला को ज्ञापन सौंपा मुख्यमंत्री के जाने के बाद सभी कांग्रेसियों को छोड़ा गया। इस मौके पर राजीव द्विवेदी, अशोक निषाद, रीता कठेरिया, हेरिना सिंह, प्रतिभा निगम, राजेश राजपूत समेत कांग्रेसियों को हिरासत में लेकर थाने में नजरबंद किया। इसके बाद सभी को शाम चार बजे सभी को छोड़ा

गया