ईंधन लीक होने का बहाना बनाकर रुकवाई गाड़ी, फिर आइटी कंपनी के मैनेजर को ठगा

 

बाइक सवार दो युवकों ने उन्हे गाड़ी का ईंधन लीक होने का इशारा किया।

नोएडा से दिल्ली को जोड़ने वाले डीएनडी फ्लाइवे पर ठक-ठक गिरोह के बदमाशों ने एक आइटी कंपनी मैनेजर को निशाना बनाया। आरोपितों ने पहले ईंधन लीक होने का बहाना बनाकर गाड़ी रुकवाई और पीड़ित की कार में रखा लैपटाप बैग लेकर फरार हो गए।

नई दिल्ली,  संवाददाता। नोएडा से दिल्ली को जोड़ने वाले डीएनडी फ्लाइवे पर ठक-ठक गिरोह के बदमाशों ने एक आइटी कंपनी मैनेजर को निशाना बनाया। आरोपितों ने पहले ईंधन लीक होने का बहाना बनाकर गाड़ी रुकवाई और पीड़ित की कार में रखा लैपटाप बैग लेकर फरार हो गए। पीड़ित ने सनलाइट कालोनी थाना पुलिस को मामले की शिकायत दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार सरदार जसमीत सिंह हसमीत सिंह अहलूवालिया मालवीय नगर में परिवार के साथ रहते हैं। वह नोएडा की एक आइटी कंपनी में वरिष्ठ पद पर तैनात हैं। उन्होंने बताया कि 15 नवंबर को वह अपने कार्यालय से घर वापस लौट रहे थे। इस दौरान बाइक सवार दो युवकों ने उन्हे गाड़ी का ईंधन लीक होने का इशारा किया। इस पर उन्होंने कार किनारे कर रोकी और बाहर निकलकर जांच के लिए उतरे।

इस दौरान उन्होंने देखा कि गाडी तो पूरी तरह से ठीक है। वह वापस लौटे तो उन्होंने देखा कि गाड़ी में पीछे सीट पर रखा उनका लैपटाप बैग गायब है। पीड़ित ने बताया कि बैग में लैपटाप, चश्मे, और कई अन्य कागजात थे। पीड़ित ने बताया कि उनकी कंपनी से जुड़ी ई-मेल और अन्य कई महत्वपूर्ण दस्तावेज उनके लैपटाप बैग में ही हैं। पीड़ित की शिकायत के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

फतेहपुर बेरी थाना क्षेत्र में रहने वाले एक युवक की आत्महत्या के बाद स्वजन ने पड़ोसियों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। पीड़ित के स्वजन का आरोप है कि पड़ोसियों ने उनके भाई को जेल भेजने की धमकी दी और पूरे परिवार को मारने की बात कही। इसके बाद युवक कृष्ण मुरारी ने फंदा लगाकर जान दे दी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

वहीं एक अन्य मामले में जौनापुर गांव में रहने वाले युवक कृष्ण मुरारी ने चार नवंबर को घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मृतक की बहन मधु ने फतेहपुर बेरी थाना पुलिस को अपने पड़ोसियों पर हत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कराया है।

पुलिस के अनुसार कृष्ण के पड़ोस में रहने वाली एक युवती किसी व्यक्ति के साथ चली गई थी। इसको लेकर पड़ोसी कृष्ण पर दबाव बना रहे थे। उन्होंने कृष्ण पर तमंचा भी तान दिया था। उसे और उसके परिवार को खत्म करने की धमकी दी थी। धमकियों से तंग आकर युवक ने कमरे में फंदा लगाकर जान दे दी थी।