दिल्ली के गोविंदपुरी में जुआ खेलते समय पत्नी पर टिप्पणी का विरोध करने पर युवक की हत्या

 

जुआ खेलते समय पत्नी पर टिप्पणी का विरोध करने पर युवक की हत्या
गोविंदपुरी थाना क्षेत्र में दीवाली के त्योहार पर जुआ खेलने के लिए गए युवक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। युवक पर आरोपितों ने पांच बार चाकू से हमला किया। युवक का शव गोविंदपुरी के नवजीवन कैंप नाले के पास फेंक कर फरार हो गए।

नई दिल्ली:  संवाददाता। गोविंदपुरी थाना क्षेत्र में दीवाली के त्योहार पर जुआ खेलने के लिए गए युवक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। युवक पर आरोपितों ने पांच बार चाकू से हमला किया। युवक का शव गोविंदपुरी के नवजीवन कैंप नाले के पास फेंक कर फरार हो गए। युवक की पहचान 38 वर्षीय राजेंद्र कुमार के रूप में की गई है। राजेंद्र की पत्नीपर टिप्पणी करने पर विवाद बढ़ने पर उसके साथ जुआ खेल रहे लोगों ने वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले में हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। जानकारी के अनुसार राजेंद्र कुमार गोविंदपुरी के नवजीवन कैंप में तीन बच्चों और पत्नी के साथ रहता था।

पीड़ित परिवार के मुताबिक शुक्रवार रात कुछ लोग उसे बुलाकर ले गए थे। रात 12 बजे के बाद युवक ने अपनी मां को फोन कर 10 हजार रुपये भी मांगे थे, लेकिन मां ने रुपये न होने की बात कही। इसके बाद सुबह लोगों ने युवक के बेहोशी की अवस्था में पड़े होने की बात स्वजन को बताई। घटना की सूचना मिलने पर स्वजन मौके पर पहुंचे और युवक को अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

अस्पताल से सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पत्नी पर टिप्पणी के कारण हुआ था झगड़ाजानकारी के अनुसार आरोपित के साथी उसे जुआ खेलने के लिए बुलाकर ले गए थे। इस दौरान जुआ खेल रहे युवकों ने उसकी पत्नी पर अभद्र टिप्पणी कर दी, जिससे दोनों में विवाद हो गया।

विवाद के दौरान ही युवक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। जिस स्थान पर शव मिला उस स्थान पर संघर्ष के भी निशान पाए गए हैं। साथ ही युवक के कपड़े भी अस्त-व्यस्त मिले हैं। फोन व रुपये भी आरोपित लूट ले गए। ऐसे में झगड़े होने और पिटाई के बाद हत्या करने की आशंका जताई जा रही है। मां से मांगे थे 10 हजार रुपये स्वजन ने बताया कि राजेंद्र कुमार ने देर रात में अपनी मां को अंतिम बार फोन कर 10 हजार रुपये की मांग की थी।

इस दौरान मां ने 10 हजार रुपये न होने की बात कही थी। इसके बाद से उसका मोबाइल नंबर बंद हो गया। पूरी रात स्वजन राजेंद्र को ढूंढ़ने का प्रयास करते रहे। सुबह स्थानीय लोगों ने परिवार को बताया कि राजेंद्र बेहोशी की हालत में नाले के पास पड़ा हुआ है।बेखौफ बदमाशों ने आठ दिन में सात लोगों की ली जानदक्षिणी दिल्ली में त्योहारों के सीजन में बदमाशों ने बेखौफ होकर वारदात को अंजाम दिया।

पुलिस के हाई अलर्ट के दावों की धज्जियां उड़ाते हुए बदमाशों ने आठ दिन में सात हत्याओं को अंजाम दिया है। कुछ मामलों में पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार किया है, वहीं कई मामलों में पुलिस अभी भी आरोपितों की शिनाख्त भी नहीं कर पाई है।

नहीं रुक कर रही हत्या की वारदात

6 नवंबर- गोविंदपुरी इलाके में पत्नी पर टिप्पणी का विरोध करने पर युवक की हत्या

3 नवंबर- छतरपुर में एक दिन पहले किराये पर रहने आई महिला के सिर पर भारी वस्तु से हमला कर हत्या

2 नवंबर- सीआर पार्क इलाके में ड्राइवर ने छुट्टी न देने पर मालकिन की गला घोंटकर हत्या की

1 नवंबर- हजरत निजामुद्दीन इलाके में दो मजदूरों की लूट का विरोध करने पर गला रेत कर हत्या

31 अक्टूबर- अमर कालोनी थाना क्षेत्र में बीच सड़क पर आटो चालक की गोली मारकर हत्या

30 अक्टूबर- जैतपुर थाना क्षेत्र में बीच सड़क पर युवक को चाकुओं से गोदा, हत्या के प्रयास का मामला दर्ज