हजार भर्तियां करेगा FB, 3.7 करोड़ का मिल सकता है पैकेज, जानें-5 साल में 10 कैसे करें तैयारी

 


Career in Metaverse:भविष्य में इस फील्ड के विशेषज्ञों की डिमांड काफी ज्यादा होने का अनुमान है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)
Publish Date:Tue, 23 Nov 2021 04:11 PM (IST)Author: Amit Singh

मेटावर्स इंटरनेट की दुनिया का भविष्य माना जा रहा है। इसके आने से कई क्षेत्रों में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। साथ ही भविष्य में तकनीकी रूप से कुशल युवाओं के लिए इस फील्ड में करियर के आकर्षक विकल्प होंगे। जानते हैं- इस आभासी दुनिया के लिए कैसे करें तैयारी।

धीरेंद्र पाठक, नई दिल्‍ली। मेटावर्स की चर्चा इन दिनों दुनियाभर में है। भले ही इस तकनीक के आने में समय लगेगा, लेकिन इसे अभी से इंटरनेट की दुनिया का भविष्‍य कहा जा रहा है। माना जा रहा है कि मेटावर्स के आने से पढ़ाई-लिखाई से लेकर आफिस के कामकाज, मीटिंग, मनोरंजन और घूमने-फिरने समेत बहुत से क्षेत्रों में व्‍यापक बदलाव देखने को मिलेंगे। ऐसे में वह दिन दूर नहीं, जब तकनीकी रूप से कुशल युवाओं के लिए इस फील्‍ड में करियर के नये और आकर्षक मौके भी सामने आएंगे। आइये जानें, खुद को इस नई आभासी दुनिया के लिए कैसे तैयार करें…

Ads by Jagran.TV

आज से एक दशक पहले तक जिस तरह से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआइ) को लेकर चर्चा होती थी और लोगों को यह मिथक लगता था, उसी तरह की स्थिति अभी मेटावर्स के साथ है। क्‍योंकि मेटावर्स के बारे में अभी तक हालीवुड की फिक्‍शन फिल्‍मों में ही देखने-सुनने को मिलता था। लेकिन जल्‍द ही यह हम सभी के लिए हकीकत बनने वाला है। जानकारों की मानें,तो मेटावर्स ही अब इंटरनेट का नया भविष्‍य है। फेसबुक, एपिक गेम्‍स, एनवीइंडिया और रोबलाक्‍सकारपोरेशन जैसी दिग्‍गज इंटरनेट कंपनियों की तैयारी को देखकर तो ऐसा ही लग रहा है। खबरों की मानें, तो फेसबुक अपने मेटायूनिवर्स के लिए अगले पांच साल में करीब 10 हजार हाइली स्किल्‍ड प्रोफेशनल्‍स की भर्ती की तैयारी कर रहा है। ये वैकेंसीज खासतौर से यूरोपीय यूनियन के देशों में देखने को मिलेंगी। आपको भी मेटावर्स की जरूरत के अनुसार खुद को अभी से तैयार करने की जरूरत है, क्‍योंकि यह फील्‍ड डेवलपर्स, एंटरप्रेन्‍योर्स, इनोवेटर्स और क्रिएटिव लोगों के लिए बहुत अच्‍छी संभावनाएं लेकर आने वाला है।

jagran

क्‍या है मेटावर्स

संक्षेप में कहें, तो मेटावर्स भी एआर (आग्‍मेंटेड रियलिटी) और वीआर (वर्चुअल रियलिटी) की तरह ही हमें वर्चुअल अनुभव कराएगा, लेकिन यह एआर और वीआर से आगे का अनुभव होगा। हालांकि तकनीक इसमें एआर और वीआर की ही इस्‍तेमाल होगी। बीते दिनों इस नई तकनीक की एक झलक देखने को मिली। इस तकनीक की मदद से एक गेमिंग कंपनी द्वारा वर्चुअल म्यूजिक कंसर्ट आयोजित किया गया। लोग घर बैठे इस कंसर्ट में न केवल वर्चुअली शामिल हुए, बल्कि वे इस कंसर्ट में पाप स्टार के साथ वर्चुअली डांस करने का भी आनंद ले रहे थे। इसी तरह, दूसरे लाकडाउन के दौरान एक शैक्षिक संस्‍थान द्वारा वर्चुअल दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया था, जिसमें स्‍टूडेंट अपने घर ही बैठे रहे, लेकिन उनका वर्चुअल अवतार समारोह में उपस्थित रहा। वैसे, आनलाइन गेमिंग में इस आभासी दुनिया का इस्‍तेमाल बहुत पहले से हो रहा है। लेकिन माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में इस तकनीक का इस्‍तेमाल और कई क्षेत्रों में देखने को मिलेगा।

करियर के नये विकल्‍प

एक रिपार्ट के अनुसार, फेसबुक, माइक्रोसाफ्ट समेत कई बड़े टेक फर्म मेटावर्स में निवेश के लिए आगे आ रहे हैं। आइये जानें, वास्‍तविक रूप में यह तकनीक आने पर किस-किस तरह के जाब प्रोफाइल्स की मांग ज्‍यादा होगी …

मेटावर्स रिसर्च साइंटिस्ट

भविष्‍य में मेटावर्स तकनीक अपनाए जाने पर मेटावर्स रिसर्च साइंटिस्ट्स की काफी मांग होगी, क्‍योंकि इस आभासी दुनिया के लिए जिन चीजों को बनाने की जरूरत होगी, वे यही प्रोफेशनल डेवलप करेंगे। इन्‍हीं पर इस तकनीक के लिए तमाम तरह के रिसर्च की भी जिम्‍मेदारी होगी, ताकि इस आभासी दुनिया को भव्‍यता प्रदान की जा सके।

jagran

मेटावर्स प्लानर

अपना-अपना मेटायूनिवर्स बनाने की ओर बढ़ रही कंपनियों/इंडस्‍ट्रीज के लिए मेटावर्स प्‍लानर की बड़ी संख्या में आवश्‍यकता होगी, क्‍योंकि इस आभासी दुनिया के लिए उन्‍हें ऐसे प्रोफेशनल चाहिए होंगे, जो सभी चीजों की योजना बनाने और उन्हें लागू करने में कुशल हों। ऐसे में यहां पर मेटावर्स प्लानर की एक महत्वपूर्ण भूमिका देखने को मिलेगी। ऐसे प्रोफेशनल नये अवसरों की पहचान करने के साथ ही व्यावसायिक चीजों का निर्माण, इंजीनियरिंग रोडमैप, मैट्रिक्स आदि विकसित करने की जिम्‍मेदारी निभाएंगे।

इकोसिस्टम डेवलपर

नयी आभासी दुनिया में इकोसिस्टम डेवलपर का काम यह सुनिश्चित करना होगा कि शेयर होल्‍डर्स और सरकारों के बीच किस तरह का कोआर्डिनेशन हो जिससे कि इस तकनीक के क्रियान्‍वयन में किसी तरह की कोई बाधा न आए। ऐसे प्रोफेशनल बुनियादी ढांचे में निवेश को आकर्षित करने के साथ-साथ उसमें एनिमेशन जैसे कार्य देखेंगे।

मेटावर्स सेफ्टी मैनेजर

मेटावर्स सेफ्टी मैनेजर मुख्‍य रूप से यह सुनिश्चित करेंगे कि डिजिटल दुनिया सभी के लिए सुरक्षित हो और यहां सभी नियामक सुरक्षा आवश्यकताएं अच्‍छी तरह से लागू हों। साथ ही, ये डिजाइन, सत्यापन और बड़े पैमाने पर प्रोडक्टिविटी के लिए गाइडेंस और निगरानी जैसी सेवाएं भी देंगे।

मेटावर्स हार्डवेयर बिल्डर

मेटावर्स केवल कोड से ही नहीं बना होगा। यह सेंसर, कैमरा और हेडसेट आदि से भी लैस होगा, क्‍योंकि पूरी तरह से डिजिटल दुनिया बनाने के लिए ये चीजें भी चाहिए होंगी, जो इस नयी तकनीक को सपोर्ट करें। ऐसे में एक मेटावर्स हार्डवेयर बिल्डर को यह सुनिश्चित करना होगा कि यह सस्ते और सुरक्षित तरीके से बनाया गया हो ताकि मेटावर्स केवल अमीरों तक ही सीमित न रह जाए, बल्कि यह आम लोगों की भी पहुंच में हो।

मेटावर्स साइबर सिक्‍युरिटी एक्‍सपर्ट

तमाम आनलाइन गतिविधियों की तरह मेटावर्स में भी साइबर अटैक के खतरे हो सकते हैं, जैसे कि अवतारों का हैक होना, एनएफसी चोरी, बायोमेट्रिक व फिजिकल डाटा लीक इत्‍यादि। मेटावर्स साइबर सिक्‍युरिटी एक्‍सपर्ट इस तरह के किसी भी संभावित साइबर हमले को रोकने का काम करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि कानून और मेटावर्स के सभी जोखिमों को शामिल करने के लिए प्रोटोकाल का सही तरह से पालन हो।

इन उद्योगों में भी होगी मेटावर्स पेशेवरों की डिमांड

फैशन इंडस्‍ट्री, फिल्‍म इंडस्‍ट्री, आनलाइन शापिंग प्‍लेटफार्म्‍स, टूरिज्‍म सेक्‍टर, मैन्‍युफैक्‍चरिंग, आर्किटेक्‍चर, फाइनेंशियल फर्म्‍स तथा लीगल समेत तमाम एरियाज में मेटावर्स पेशेवरों के लिए जाब की ज्‍यादा संभावनाएं देखी जा रही हैं। खासतौर से फैशन की दुनिया में वर्चुअल वर्ल्ड के लिए अपनी पहचान बनाने पर बड़े ब्रांड अभी से ही काफी फोकस कर रहे हैं, क्‍योंकि अवतारों को विभिन्‍न तरह के पोशाकों की जरूरत होगी, जिसके लिए फैशन स्‍टाइलिस्‍ट जैसे प्रोफेशनल्‍स काफी डिमांड में होंगे। यही फैशन स्टाइलिस्ट अवतारों का निर्माण करने के साथ ही लोगों के व्यक्तित्व से अनुसार उनके अवतार तैयार करेंगे। गूची, डोलचे एंड गबाना, आस्‍कर दे ला रेंटा, कासाब्लांका, बहलेसिआगा जैसे ब्रांड ने इसका परीक्षण पहले से ही शुरू कर दिया है।

फिल्म इंडस्ट्री का वर्चुअल यूनिवर्स

फिल्म इंडस्‍ट्री भी अपना खुद का वर्चुअल यूनिवर्स बनाने पर जोर दे रहा है। इस पैरेलल बालीवुड यूनिवर्स को प्रोडक्शन हाउस, ब्रांड, मशहूर हस्तियों, संगीत लेबल, गेमिंग स्टूडियो और एनीमेशन कंपनियों के सहयोग से बनाया जाएगा। जाहिर है ऐसे में यहां भी विभिन्‍न रूपों में काफी संभावनाएं सामने आने वाली हैं। इसी तरह यह भी संभावना जताई जा रही है कि मेटावर्स पर्यटन के लिए भी एक नया द्वार खोल सकता है। आगामी दिनों में आनलाइन एजुकेशन और लर्निंग में भी मेटावर्स एक अलग अनुभव देने वाला है। कुल मिलाकर, मेटावर्स के इस उभरती दुनिया में उच्‍च स्‍पेशलाइज्‍ड इंजीनियर्स और ब्‍लाकचेन इंजीनियर्स के अलावा कई नये-नये रूपों में रोजगार के मौके देखने को मिलेंगे।

आवश्यक कौशल

मेटावर्स के क्षेत्र में नौकरी पाने के लिए आपको सही अनुभव या ज्ञान की आवश्यकता होगी। उदाहरण के लिए, एक फ्रंटएंड, बैकएंड या पूर्ण स्टैक भूमिका में एक इंजीनियर को जावास्क्रिप्ट, रिएक्ट, टाइपस्क्रिप्ट, नोड-जेएस, डिस्ट्रिब्‍यूटिंग सिस्टम, एपीआइ इंटीग्रेशन का कौशल जानने के साथ ही अनुभव भी होना चाहिए। इसी तरह वर्चुअल रूप में अवतार बनाने वाले एक थ्री डी कैरेक्‍टर आर्टिस्‍ट को थ्री डी मैक्स, माया, सिनेमा फोरडी और ब्लेंडर की जानकारी होनी आवश्यक है। उसी तरह गेम डेवलपर को खेल के साथ कुछ और अनुभव भी होना चाहिए। फैशन स्‍टाइलिस्‍ट को स्‍टाइलिंग की समझ होनी चाहिए। इसलिए अगर आप भी इस उभरते फील्‍ड में अपने लिए आकर्षक करियर चाहते हैं, तो अभी से संबंधित एरिया में आनलाइन/आफलाइन माध्‍यम से अपनी स्किल बढ़ाने पर ध्‍यान देना चाहिए।

आकर्षक सैलरी

एक अनुमान के अनुसार, मेटावर्स डेवलपर का सालाना पैकेज तीन लाख से पांच लाख डालर (3.7 करोड़ रुपये तक) के बीच होगा। चूंकि मेटावर्स का यह नया दौर अद्भुत रचनात्मकता को बढ़ावा देने वाला है, ऐसे में आने वाले दिनों में यहां संभावनाएं उम्‍मीद से कहीं ज्‍यादा व्‍यापक रूप में देखने को मिल सकती हैं।