तीनों कृषि कानूनों की वापसी पर आगामी संसद सत्र में चर्चा को लेकर तारीख हुई तय! जानें क्या बोले, प्रल्हाद जोशी तीनों कृषि कानूनों की वापसी पर आगामी संसद सत्र में चर्चा को लेकर तारीख हुई तय! Publish Date:Tue, 23 Nov 2021 02:52 PM (IST)Author: Pooja Singh तीनों कृषि कानूनों की वापसी के बाद अब इस पर चर्चा करने के लिए संसद के आगामी सत्र की तारीख तय हो गई है। प्रल्हाद जोशी ने कहा कि कृषि मंत्रालय आगामी शीतकालीन सत्र में तीन कृषि कानूनों पर चर्चा करने के लिए तारीखों पर विचार कर रहा है। नई दिल्ली, एएनआइ। तीनों कृषि कानूनों की वापसी के बाद अब इस पर चर्चा करने के लिए संसद के आगामी सत्र की तारीख तय हो गई है। केंद्रीय कोयला और खान मंत्री प्रल्हाद जोशी ने मंगलवार को कहा कि कृषि मंत्रालय संसद के आगामी शीतकालीन सत्र में तीन कृषि कानूनों पर चर्चा करने के लिए तारीखों पर विचार कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय मंत्रिमंडल 24 नवंबर को तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मंजूरी के लिए विचार कर सकता है। Ads by Jagran.TV मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर और आइपीएस परमबीर सिंह IPS परमबीर सिंह के घर के बाहर चस्पा किया गया 'फरार' घोषित करने वाला नोटिस यह भी पढ़ें संसद में तीन कृषि कानूनों को कब निरस्त किए जाने के सवाल पर जोशी ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, 'कृषि मंत्रालय विचार कर रहा है और यह तय किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ही इसकी घोषणा कर चुके हैं। जब यह संसद में आता है, हम देखेंगे कि इसे कब वापस लिया जा सकता है। उन्होंने बताया कि कानूनों को वापस लेने के विधेयकों को संसद के आगामी शीतकालीन सत्र में पेश किया जाएगा जो 29 नवंबर से शुरू होने वाला है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 नवंबर को तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की घोषणा की थी। पीएम ने यह भी घोषणा की थी कि सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) के लिए एक नए ढांचे पर काम करने के लिए एक समिति का गठन करेगी। केंद्र द्वारा 2020 में कानून पारित किए जाने के बाद से किसान सरकार के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं।

 

तीनों कृषि कानूनों की वापसी पर आगामी संसद सत्र में चर्चा को लेकर तारीख हुई तय!
तीनों कृषि कानूनों की वापसी के बाद अब इस पर चर्चा करने के लिए संसद के आगामी सत्र की तारीख तय हो गई है। प्रल्हाद जोशी ने कहा कि कृषि मंत्रालय आगामी शीतकालीन सत्र में तीन कृषि कानूनों पर चर्चा करने के लिए तारीखों पर विचार कर रहा है।

नई दिल्ली, एएनआइ। तीनों कृषि कानूनों की वापसी के बाद अब इस पर चर्चा करने के लिए संसद के आगामी सत्र की तारीख तय हो गई है। केंद्रीय कोयला और खान मंत्री प्रल्हाद जोशी ने मंगलवार को कहा कि कृषि मंत्रालय संसद के आगामी शीतकालीन सत्र में तीन कृषि कानूनों पर चर्चा करने के लिए तारीखों पर विचार कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय मंत्रिमंडल 24 नवंबर को तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मंजूरी के लिए विचार कर सकता है।

संसद में तीन कृषि कानूनों को कब निरस्त किए जाने के सवाल पर जोशी ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, 'कृषि मंत्रालय विचार कर रहा है और यह तय किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ही इसकी घोषणा कर चुके हैं। जब यह संसद में आता है, हम देखेंगे कि इसे कब वापस लिया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि कानूनों को वापस लेने के विधेयकों को संसद के आगामी शीतकालीन सत्र में पेश किया जाएगा जो 29 नवंबर से शुरू होने वाला है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 नवंबर को तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की घोषणा की थी। पीएम ने यह भी घोषणा की थी कि सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) के लिए एक नए ढांचे पर काम करने के लिए एक समिति का गठन करेगी। केंद्र द्वारा 2020 में कानून पारित किए जाने के बाद से किसान सरकार के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं।