हर किसी की जिंदगी के जुड़ा है SAIL, इसी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को दी फौलादी ताकत

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर उतरता सी-130 जे सुपर हरक्‍युलस ( फोटो एएनआइ)।
 16 नवंबर को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सी-130 जे सुपर हरक्‍युलससे ही लैंडिंग हुई। फौलादी ताकत वाला यह एक्सप्रेस-वे ऐसे ही नहीं बना है। इसके की ताकत है।

संवाददाता, बोकारो। इस समय देश में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की खूब चर्चा हो रही है। आखिर क्यों न हो। फौलाद की इसकी ताकत है। ताकत ऐसी की ग्लोब मास्टर सी-130 जे सुपर हरक्‍युलस ( C-130 J Super Hercules) जैसे भारतीय वायुसेना के मालवाहक विमान की सुरक्षित लैंडिग हो सकती है। 16 नवंबर को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सी-130 जे सुपर हरक्‍युलस ( C-130 J Super Hercules) से ही लैंडिंग हुई। फौलादी ताकत वाला यह एक्सप्रेस-वे ऐसे ही नहीं बना है। इसके पीछे SAIL( Steel Authority of India Limited) की ताकत है। आप सभी को सेल की एक पंच लाइन याद होगी-हर किसी की जिंदगी से जुड़ा है सेल। सचमुच, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से भी जुड़ गया है सेल।

सेल ने ट्वीट कर दी जानकारी

सेल भारत सरकार की नवरत्न कंपनी है। इसकी झारखंड के बोकारो, ओडिशा के राउरकेला, छत्तीसगढ़ की भिलाई, पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर, तमिलनाडु के सलेम आदि स्थानों पर इकाई है। सेल ने ट्वीट कर पूर्वांचल एक्सप्रेस के निर्माण के लिए स्टील आपूर्ति की जानकारी दी है। यह स्टील बोकारो स्टील प्लांट से आपूर्ति हुई है। 

jagran

सेल ने की 48,200 टन स्टील की आपूर्ति

स्टील अथारिटी आफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए 48,200 टन स्टील की आपूर्ति की है। जिसका उद्घाटन हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। सेल ने इस विशाल परियोजना के लिए टीएमटी बार, स्ट्रक्चरल और प्लेट जैसे उत्पादों की आपूर्ति की है। यह 341 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों को आपस में जोड़ रहा है, जिससे प्रदेश की रोड कनेक्टिविटी और अधिक बेहतर हो गई है। सेल ने हमेशा देश की घरेलू स्टील जरूरतों को पूरा किया है और देश की उन्नति और विकास में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इससे पहले, राष्ट्रीय महत्व की कई अन्य महत्वपूर्ण परियोजनाओं के साथ-साथ इस्टर्न एंड वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे, अटल टनल, बोगीबिल, ढोला-सादिया ब्रिजेज आदि समेत विभिन्न बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के निर्माण में सेल स्टील का व्यापक रूप से इस्तेमाल हुआ है। इसके साथ ही सेल अपने प्रोडक्ट बास्केट में वैल्यू-एडेड-प्रोडक्ट के अनुपात में लगातार बढ़ोतरी के साथ ही अपने उत्पादन में भी लगातार वृद्धि कर रहा है।

jagran

341 किलोमीटर लंबा पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की लंबाई 341 किलोमीटर है। इसका आपात परिस्थिति में युद्धक विमानों के सुरक्षित लैंडिंग के लिए इस्तेमाल भी हो सकता है। इसका प्रदर्शन भी उद्घाटन के दाैरान हुआ। इंडियन एयफोर्स ने  एयरशो किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे  के उद्घाटन के बाद एयरशो के दौरान भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों के हवाई करतब देखे। भारतीय वायुसेना के विमान मिराज 2000 ( Mirage 2000) जगुआर ने एयरशो में करतब दिखाते हुए भारत की सैन्‍य क्षमता का मजबूत प्रदर्शन किया।  पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की 3.2 किलोमीटर लंबी हवाई पट्टी पर एएन- 32 (An-32), सी-130 जे सुपर हरक्‍युलस ( C-130 J Super Hercules) ने भी लैंडिंग कर सामरिक शक्ति का प्रदर्शन किया।

Popular posts
आमना शरीफ ने ब्लैक ब्रालेट पहन बीच पर 'बोल्ड' अंदाज में किया पोज, तस्वीरें देख ट्रोलर्स ने कहा, 'आप कहां की शरीफ है'
Image
अयान मुखर्जी ने शेयर कीं 'ब्रह्मास्त्र' की शूटिंग की 5 तस्वीरें, तीसरी तस्वीर से लीक हुआ रणबीर कपूर के पौराणिक किरदार का लुक?
Image
दिल्ली में बर्बाद हो चुकी फसल के लिए किसानों को मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार, भाजपा ने लिया क्रेडिट
Image
खुद को पानी और आग आग का मिश्रण मानती हैं ईशा सिंह, 'सिर्फ तुम' से डेढ़ साल बाद लौटीं टीवी पर
Image
सिर्फ 9 लाख रुपये में ग्रेटर नोएडा में पाएं अपना घर, जानिये- कीमत, ड्रा और पजेशन के बारे में
Image