बिहारः तेजस्वी यादव के हनीमून पर अदालत का पेंच, ये बाधा दूर हुई तो राजश्री संग विदेश जाने का है प्लान

 

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के साथ उनकी पत्नी राजश्री। जागरण आर्काइव।
तेजस्वी प्रवर्तन निदेशालय की विशेष अदालत में जमा अपने पासपोर्ट को प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं। उनका पासपोर्ट 2018 में ही जमा करा लिया गया था जो अभी तक नहीं मिला है। अदालत से इजाजत मिलने पर वे सिंगापुर या किसी अन्य देश जा सकते हैं।

राज्य ब्यूरो, पटना। क्रिसमस से पहले नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पत्नी राजश्री यादव के साथ गुरुवार को दिल्ली चले गए। इस दौरान तेजस्वी प्रवर्तन निदेशालय की विशेष अदालत में जमा अपने पासपोर्ट को प्राप्त करने की कोशिश करेंगे। रेलवे टेंडर घोटाले में उनका पासपोर्ट 2018 में ही जमा करा लिया गया था, जो अभी तक नहीं मिला है। शादी के बाद हनीमून पर जाने में यह सबसे बड़ी बाधा है। अगर अदालत से इजाजत मिलती है तो तेजस्वी सिंगापुर या किसी अन्य देश जा सकते हैं। दूसरी खबर क्रिसमस को लेकर है। दिल्ली प्रवास के दौरान तेजस्वी के साथ राजश्री दिल्ली की फ्रेंड्स कालोनी स्थित अपने मायके भी जाएंगी। सूचना है कि दोनों क्रिसमस वहीं मनाएंगे। 

शादी के बाद तेजस्वी ने अपने पासपोर्ट की वापसी के लिए आवेदन दिया है। आधार हनीमून को बनाया है। अगर अदालत से इजाजत मिली तो हनीमून के लिए दोनों सिंगापुर या किसी अन्य देश की ओर रुख कर सकते हैं। प्रवर्तन निदेशालय की अदालत में तेजस्वी को गुरुवार को ही पेश होना है। हनीमून से लौटने के बाद पटना में बड़े स्तर पर बहूभोज का आयोजन करना है। खरमास खत्म होने के बाद तेजस्वी को बेरोजगारी हटाओ यात्रा भी निकालनी है।

jagran
jagran

पहले अकेले दिल्ली जाने का था प्लान

गौरतलब है कि रेलवे टेंडर घोटाला उस समय हुआ था, जब लालू प्रसाद रेल मंत्री थे। इसमें दो होटलों के अनुबंध में वित्तीय अनियमितता का आरोप है। प्रवर्तन निदेशालय इसकी जांच कर रहा है। इसमें तेजस्वी का भी नाम है। बता दें कि पहले से ही तेजस्वी का दिल्ली जाने का कार्यक्रम था। पहले उन्होंने अकेले ही जाने की तैयारी की थी, लेकिन लालू के बुलावे पर पत्नी राजश्री के साथ नेता प्रतिपक्ष रवाना हुए हैं। दिल्ली में विवाह करने के बाद 13 दिसंबर से तेजस्वी अपनी पत्नी के साथ पटना में ही थे।