पाकिस्तान सरकार बाबर और टीपू सुल्तान पर बनाएगी बायोपिक, ईरान और उज्बेकिस्तान देंगे सहयोग

 

पाकिस्तान सरकार बाबर और टीपू सुल्तान पर बनाएगी बायोपिक, ईरान और उज्बेकिस्तान देंगे सहयोग
इमरान खान की सरकार ने लाखों-करोड़ों डालर की लागत से मुगल बादशाह जहीरुद्दीन बाबर टीपू सुल्तान और उर्दू शायर मुहम्मद इकबाल पर बायोपिक बनाने का फैसला किया है। फवाद चौधरी ने घोषणा करते हुए बताया कि उसके इस काम में दो अन्य इस्लामिक देश ईरान और उज्बेकिस्तान उसका सहयोग करेंगे।

नई दिल्ली, आइएएनएस। जिस पाकिस्तान सरकार के पास अपने कर्मचारियों को वेतन देने के लिए धन नहीं है और सरकार का खर्च चलाने के लिए प्रधानमंत्री आवास और अन्य सरकारी प्रतिष्ठानों को किराए पर उठाना पड़ता हो उसकी उधार के तोड़े-मरोड़े इतिहास में रुचि बढ़ गई है। लिहाजा, इमरान खान की सरकार ने लाखों-करोड़ों डालर की लागत से मुगल बादशाह जहीरुद्दीन बाबर, टीपू सुल्तान और उर्दू शायर मुहम्मद इकबाल पर बायोपिक बनाने का फैसला किया है।पाकिस्तान के सूचना एवं प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने यह घोषणा करते हुए बताया कि उसके इस काम में दो अन्य इस्लामिक देश ईरान और उज्बेकिस्तान उसका सहयोग करेंगे। ईरान के साथ वह उर्दू शायर मुहम्मद इकबाल और उज्बेकिस्तान के साथ मिलकर बाबर पर फिल्म बनाएंगे। इसके अलावा, पाकिस्तान एक निजी प्रोडक्शन हाउस की मदद से टीपू सुल्तान पर भी फिल्म बनाएगा।

पाकिस्तान टेलीविजन नेटवर्क ने एक फिल्म डिविजन बनाया है और इसी के मार्फत बाबर और इकबाल पर फिल्मों का निर्माण होगा। पाकिस्तान का दावा है कि यह दोनों फिल्में अंतरराष्ट्रीय मानकों पर आधारित होंगी। उन्होंने कहा कि सरकार ने फिल्म निर्माण की प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए एनओसी पहले ही ले लिया है। उन्होंने कहा कि पीटीवी फिल्म के तहत युवा फिल्म निर्माताओं को उनके विचारों पर आधारित फिल्में बनाने का मौका दिया जाएगा। मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान में और सिनेमाघर खोले जाएंगे। साथ ही फिल्म उद्योग को भी बढ़ावा दिया जाएगा। सरकार सिनेमाघरों में इस्तेमाल होने वाली बिजली के लिए औद्योगिक और घरेलू दरों की घोषणा करेगी। हमने सिनेमा से कई कर भी हटा दिए हैं।