देश में ओमिक्रोन के खतरे के बीच जानिए किन राज्यों में लगाए गए कौन-कौन से प्रतिबंध

 

देश में तेजी से बढ़ रहे हैं ओमिक्रोन के मामले
 क्रिसमस और नए साल के जश्न को लेकर केंद्र व राज्य सरकारों ने कोरोना की टेस्टिंग और रोकथाम के उपायों को तेज कर दिया है। इस बीच मुंबई में धारा 144 लागू कर दी गई है।

नई दिल्ली, एजेंसियां। देश में ओमिक्रोन का खतरा बढ़ता ही जा रहा है। ओमिक्रोन के कुल मामले 250 से ज्यादा हो गए हैं। अमिक्रोन के प्रसार को रोकने के लिए केंद्र व राज्य सरकार अपने स्तर पर दिशानिर्देश जारी कर रहे हैं। क्रिसमस और नए साल के जश्न को लेकर केंद्र व राज्य सरकारों ने कोरोना की टेस्टिंग और रोकथाम के उपायों को तेज कर दिया है। इस बीच, मुंबई में धारा 144 लागू कर दी गई है। क्रिसमस और नए साल के जश्न को लेकर मुंबई के लोगों को रेस्टोरेंट और पब में जाने से बचने को कहा गया है।

दिल्ली  50 फीसद लोगों की संख्या के साथ खुलेंगे रेस्टोरेंट और बार

देश की राजधानी दिल्ली में आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने क्रिसमस और नए साल के जश्न पर पाबंदी लगाने का एलान किया है। डीडीएमए का तर्क है कि भीड़भाड़ के चलते कोरोना संक्रमण तेजी से फैलता है, ऐसे में ओमिक्रोन वैरिएंट को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। दिल्ली में रेस्टोरेंट और बार अब 50 फीसद लोगों की संख्या के साथ खुलेंगे। इस गाइडलाइन का उल्लंघन करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उसके खिलाफ महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई करने का प्रावधान है।

31 दिसंबर की मध्यरात्रि तक मुंबई में धारा 144 लागू

ओमिक्रोन वैरिएंट के बढ़ते मामलों को देखते हुए बृहन्मुंबई महानगर पालिका परिषद (बीएमसी) ने लोगों से क्रिसमस और नए साल पर पार्टियों में जाने से बचने को कहा है। साथ ही महाराष्ट्र सरकार ने 31 दिसंबर की मध्यरात्रि तक मुंबई में धारा 144 लागू कर दी है। इस दौरान नए साल के जश्न को लेकर समुद्री बीच या पर्यटन स्थलों में पार्टी की अनुमति नहीं होगी। क्रिसमस और नए साल के जश्न में होने वाले डांस पार्टियां के फ्लोर को आधी क्षमता तक ही सीमित रखे जाने का निर्देश है।

कर्नाटक में बड़ी सभाएं और पार्टियां नहीं होंगी आयोजित

कर्नाटक सरकार ने अपने यहां के बार और रेस्टोरेंट में 50 फीसद बैठने की क्षमता के साथ संचालन की अनुमति दी हुई है। कर्नाटक सरकार ने रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशनों से यह सुनिश्चित करने का भी आग्रह किया है कि उनके संबंधित परिसरों में बड़ी सभाएं और पार्टियां नहीं आयोजित की जाएं। ये प्रतिबंध 30 दिसंबर से प्रभावी होकर और 2 जनवरी तक लागू रहेंगे।

गुजरात के आठ प्रमुख शहरों में लगाया गया रात का कर्फ्यू

इस सप्ताह की शुरुआत में भूपेंद्र पटेल के नेतृत्व वाली गुजरात सरकार ने 8 प्रमुख शहरों- अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, वडोदरा, गांधीनगर, भावनगर, जामनगर और जूनागढ़ में रात का कर्फ्यू (सुबह 1 से 5 बजे के बीच) 30 दिसंबर तक बढ़ा दिया है। दुकानें और अन्य प्रतिष्ठान आधी रात तक खुले रह सकते हैं और रेस्टोरेंट भी 75 प्रतिशत क्षमता पर खुले रह सकते हैं। जिम भी 75 फीसदी क्षमता पर खुल रह सकती हैं। बगीचे और पार्क रात 10 बजे तक खुले रह सकते ह

ैं।