अमेरिका में सिख समुदाय ने पीएम मोदी की कृषि कानूनों की वापसी के लिए सराहना की

 

अमेरिका में सिख समुदाय ने पीएम मोदी की कृषि कानूनों की वापसी के लिए सराहना की।
अमेरिका में सिख समुदाय ने तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में किसानों से संबंधित मुद्दों का विधिवत समाधान किया गया। 19 नवंबर को तीनों कृषि कानूनों की वापसी को लेकर विधेयक को मंजूरी दी गई थी।

वाशिंग्टन,पीटीआइ। अमेरिका में सिख समुदाय ने तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में किसानों से संबंधित मुद्दों का विधिवत समाधान किया गया। बता दें कि 19 नवंबर को तीनों कृषि कानूनों की वापसी को लेकर विधेयक को मंजूरी दी गई थी। इन कानूनों को पिछले साल सितंबर में संसद द्वारा कृषि क्षेत्र, विशेष रूप से कृषि उपज के मार्केटिंग में सुधार लाने के उद्देश्य से पारित किया गया था।निरस्त किए गए तीन कानून कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) अधिनियम; कृषक (सशक्तिकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार अधिनियम और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम थे। इन कानूनों के विरोध में दिल्ली में सीमा पर मुख्य रूप से पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हजारों किसानों ने एक साल से ज्यादा समय तक प्रदर्शन किया।

गतिरोध सुलझाने के लिए किसानों और केंद्र सरकार के बीच कई दौर की वार्ता हुई, लेकिन कोई रास्ता नहीं निकल पाया। इसके बाद इस साल नवंबर में केंद्र सरकार ने तीनों कानूनों को वापस लेने का ऐलान किया था। प्रधानमंत्री मोदी ने खुद देश को संबोधित करते हुए तीनों कानूनों को वापस लेने का ऐलान किया। इसके बाद संसद के शीतकालीन सत्र में तीनों कानूनों को वापस ले लिया गया। 

प्रधानमंत्री ने हमेशा भारत में सिख समुदाय और किसानों के हितों की रक्षा की है

अमेरिका में सिख समुदाय ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के निर्णय की काफी सराहना की है। सिख आफ अमेरिका संगठन के जस्सी सिंह ने बुधवार को यहां वर्जीनिया में एक सामुदायिक कार्यक्रम के आयोजन में कहा कि प्रधानमंत्री ने हमेशा भारत में सिख समुदाय और किसानों के हितों की रक्षा की है। अमेरिका के सिखों के जस्से सिंह ने कहा। संगठन ने बुधवार को यहां वर्जीनिया उपनगर में एक सामुदायिक सुविधा कार्यक्रम का आयोजन किया था।