दिल्ली दंगा: हत्या के नौ मामलों में आरोपित को मिली अंतरिम जमानत

 

दिल्ली दंगा: हत्या के नौ मामलों में आरोपित को मिली अंतरिम जमानत
कैंसर पीड़ित मां की हालत नाजुक होने पर कड़कड़डूमा कोर्ट ने दिल्ली दंगे के दौरान हुई हत्याओं के नौ मामलों में आरोपित पंकज शर्मा को एक माह के लिए अंतरिम जमानत दे दी। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश वीरेंद्र भट्ट के कोर्ट ने कहा कि अंतरिम जमानत का आधार झूठा नहीं है।

नई दिल्ली,  संवाददाता। कैंसर पीड़ित मां की हालत नाजुक होने पर कड़कड़डूमा कोर्ट ने दिल्ली दंगे के दौरान हुई हत्याओं के नौ मामलों में आरोपित पंकज शर्मा को एक माह के लिए अंतरिम जमानत दे दी। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश वीरेंद्र भट्ट के कोर्ट ने कहा कि अंतरिम जमानत का आधार झूठा नहीं है। आरोपित की मां की हालत वाकई गंभीर है। जांच अधिकारी की सत्यापन रिपोर्ट व अन्य दस्तावेज इसकी पुष्टि करते हैं। ऐसे में मानवीय आधार पर आरोपित को राहत दी जा रही है।

अभियोजन की तरफ से विशेष लोक अभियोजक ने अंतरिम जमानत अर्जी का विरोध किया। उन्होंने दलील दी कि आरोपित पर गंभीर आरोप लगे हैं। दंगे के दौरान हत्याओं के नौ मामलों में उसके खिलाफ साक्ष्य हैं। आशंका जताते हुए कहा कि बाहर निकलने पर आरोपित फरार हो सकता है या गवाहों को डरा सकता है।

इस पर कोर्ट ने कहा कि इससे पहले भी आरोपित एक माह अंतरिम जमानत पर रहा था, लेकिन तब तो उसके फरार होने या किसी को डराने के संबंध में कोई मामला सामने नहीं आया। कोर्ट ने कहा कि यह ध्यान देने योग्य बात है कि अदालत नियमित जमानत के लिए अर्जी पर विचार नहीं कर रही है। वर्तमान अर्जी अंतरिम जमानत के संबंध में उचित आधार के साथ है। इसलिए आरोपित को जमानत दी जा रही है।