शोरूम में चोरी के शक में महिला के कपड़े उतरवाए, मालिक, मैनेजर व सेल्समैन पर केस


जयपुर में शोरूम में चोरी के शक में महिला के कपड़े उतरवाए, मालिक, मैनेजर व सेल्समैन पर केस। फाइल फोटो
 जयपुर के एक शापिंग माल में चेकिंग के नाम पर महिला के कपड़े उतरवा दिए गए। पीड़ित महिला ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस के अनुसार पीड़िता शहर के जवाहर लाल नेहरू मार्ग पर स्थित वर्ल्ड ट्रेड पार्क के एक शोरूम में कपड़े खरीदने गई थी।

 संवाददाता, जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर के एक शापिंग माल में चेकिंग के नाम पर महिला के कपड़े उतरवा दिए गए। पीड़ित महिला ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस के अनुसार, पीड़िता शहर के जवाहर लाल नेहरू मार्ग पर स्थित वर्ल्ड ट्रेड पार्क के एक शोरूम में कपड़े खरीदने गई थी। उसने कुछ कपड़े पसंद किए और पहन कर देखने के लिए चेंजिंग रूम में गई। पीड़िता ने चेंजिंग रूम से बाहर आकर सेल्समैन से अपनी साइज के कपड़े मंगवाए। सेल्समैन दूसरे कपड़े लेकर आया और महिला को दे दिए। महिला फिर कपड़े पहन कर देखने के लिए अंदर गई। वह अपनी पसंद के कपड़े लेकर पैसे देने के लिए काउंटर पर पहुंची। इसी बीच, सेल्समैन ने काउंटर पर आकर कहा कि पीड़िता ने जो कपड़े पहन कर देखे थे, उनमें से एक पीस कम है।पीड़िता ने अपना बैग और अन्य समाचार दिखाया, लेकिन उनमें कुछ नहीं मिला। इस पर शोरूम मैनेजर ने महिला गार्ड को बुलाया। महिला गार्ड पीड़िता को चेंजिंग रूम में ले गई और कपड़े उतरवा कर तलाशी ली। महिला गार्ड को भी पीड़िता के पास कुछ नहीं मिला। इस पर काफी देर तक उसे बिठाए रखा और फिर पूछताछ के बाद घर जाने दिया। पीड़िता ने घर पहुंचकर स्वजनों को घटनाक्रम के बारे में बताया। पीड़िता अपने पति के साथ बुधवार दोपहर बाद जवाहर सर्किल पुलिस थाने पहुंची, लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज करने से मना कर दिया। बाद में पीड़िता अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अजय पाल लाम्बा के पास पहुंची और पूरे घटनाक्रम के बारे में बताया। इस पर शोरूम के मालिक, मैनेजर व सेल्समैन के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

गौरतलब है कि राजस्थान में महिलाओं के खिलाफ अत्याचार के मामले बढ़े हैं। इस साल अगस्त तक महिलाओं से दुष्कर्म के 6310 और छेड़छाड़ के चार हजार से ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं। नेशनल क्राइम ब्यूरो रिकार्ड के अनुसार, साल 2020 में राज्य में दुष्कर्म के 5310 और 2019 में 5997 मामले दर्ज हुए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार, इस साल अगस्त तक 6310 मामले दर्ज हो चुके थे। इस साल अब तक महिलाओं से छेड़छाड़ के चार हजार से ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं।