यदि आप भी ऐप आधारित मोटरसाइकिल बुक कर करना चाह रहे किसी जगह का सफर तो तो पढ़ लें ये खबर

 

सोनिया विहार में उन्नाव के रहने वाले एक युवक को चाकू की नोक पर लूटा था
एक युवक नौकरी की उम्मीदें लेकर उत्तर प्रदेश के उन्नाव से पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचा। वहां से ग्रेटर नोएडा जाने के लिए एक ऐप आधारित मोटरसाइकिल बुक की। मोटरसाइकिल चालक ने युवक को पहले दिल्ली की सड़कों पर घूमाया और फिर चाकू के बल पर लूट लिया।

नई दिल्ली,  संवाददाता। एक युवक नौकरी की उम्मीदें लेकर उत्तर प्रदेश के उन्नाव से पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचा। नौकरी के लिए बहुत खुश था, युवक ने वहां से ग्रेटर नोएडा जाने के लिए एक ऐप आधारित मोटरसाइकिल बुक की। मोटरसाइकिल चालक ने युवक को पहले दिल्ली की सड़कों पर घूमाया और फिर सोनिया विहार ले जाकर अपने दो साथियों के साथ मिलकर चाकू के बल पर लूट लिया।

पुलिस ने लूट की गुत्थी सुलझाते हुए तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों की पहचान मुख्य आरोपित शुभम मिश्रा, अमित चौहान उर्फ गांधी व अर्जुन उर्फ गोरा के रूप में हुई है। पुलिस ने बदमाशों के पास से चाकू, लूट का मोबाइल, पीड़ित का अन्य सामान बरामद किया है।

जिला पुलिस उपायुक्त संजय कुमार सेन ने बताया कि 16 दिसंबर को उन्नाव से एक युवक ने फोन करके पुलिस को बताया कि सोनिया विहार इलाके में उसके भाई आशीष से बदमाशों ने लूटपाट की है। 15 दिसंबर को पीड़ित ग्रेटर नोएडा में एक कंपनी में साक्षात्कार देने के लिए आया था, पीड़ित ट्रेन से पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचा। ग्रेटर नोएडा जाने के लिए रैपिडो एप मोटरसाइकिल सर्विस से एक मोटरसाइकिल बुक की। स्टेशन से बाहर निकलते ही चालक मोटरसाइकिल लेकर तैयार खड़ा था, पीड़ित मोटरसाइकिल पर बैठे और ग्रेटर नोएडा के लिए निकल गए।

पीड़ित को रास्ते की जानकारी नहीं थी। चालक उन्हें सोनिया विहार खेतों में ले गया, जहां पर पहले से दो बदमाश आटो लेकर खड़े थे। तीनों ने युवक को चाकू की नोक पर लूट लिया। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की। थानाध्यक्ष सत्यवान की देखरेख में एक टीम बनाई।

पुलिस मोटरसाइकिल सर्विस एप के जरिये मोटरसाइकिल के मालिक तक जा पहुंची, उसने पुलिस को बताया कि मोटरसाइकिल उसका छोटा भाई शुभम चलाता है। पुलिस ने शुभम को सोनिया विहार चौथे पुश्ते से गिरफ्तार कर लिया, उसकी निशानदेही पुलिस ने बाद में उसके दोनों साथियों को दबोच लिया। तीनों बदमाश नशे के आदी हैं, लत को पूरा करने के लिए वह लूटपाट की वारदात को अंजाम देते हैं।