महिला सशक्तीकरण सम्मेलन से बढ़ी सियासी गर्मी, ‘बेटी हूं लड़ सकती हूं’ का जवाब था 'मातृशक्ति कुंभ'

 

महिला सम्मेलन के जरिए भाजपा की कांग्रेस के साथ बसपा के वोट बैंक में भी सेंधमारी की कोशिश
पीएम मोदी ने मंगलवार को प्रयागराज में मातृशक्ति कुंभ के जरिए मेगा शो किया। यह शो हर घर तक भाजपा की पहुंच बनाने के लिए मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है। महिलाओं का यह समूह बसपा के वेट बैंक में भी जरूर सेंध लगाएगा।

प्रयागराज,  संवाददाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को प्रयागराज में ''मातृशक्ति कुंभ'' के जरिए मेगा शो किया। यह शो हर घर तक भाजपा की पहुंच बनाने के लिए मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है। वजह यह कि यहां से 1230 करोड़ रुपये का उपहार रिमोट का बटन दबाकर दिया। इससे पहले प्रधानमंत्री ने स्वयं सहायता समूह, बीसी सखी और कन्या सुमंगला योजना की 73 लाभार्थियों से विशेष संवाद भी किया। यह संवाद प्रधानमंत्री व साथ में मौजूद रहे मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री को महिलाओं के संबंधित जिले और गांव से जाेड़ने वाला साबित होगा।

सभी दलों का घेरा गया प्रयागराज के इस मंच से

प्रयागराज के इसी मंच से 20 हजार बैंकिंग व्यापार सखियों के खाते में चार चार हजार रुपये भेजे गए। 43 जिले में 202 पूरक पोषण इकाइयों का शिलान्यास भी भाजपा के लिए उन जिलों में उम्मीद की किरण बन सकती है। प्रधानमंत्री का यह कहना, ''मुझे पूरा विश्वास है जब हमारी माताओं बहनों का आशीर्वाद है, इस नई यूपी को कोई वापस अंधेरे में नहीं धकेल सकता'' महत्वपूर्ण है। सभा में मौजूद प्रतापगढ़ से आई बीसी सखी रेनू मौर्य, सपना मौर्य, रेशमा देवी व राजनंदिनी सरीखे महिलाओं ने ताली बजाकर स्वागत किया और जोरदारी से कहा हम योगी और मोदी के साथ हैं। इस मंच से सभी दलों को घेरा गया। कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ‘बेटी हूं लड़ सकती हूं’ का नारा देने के साथ 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को देने का वादा किया है। इसके प्रतिउत्तर में बीसी सखी, स्वयं सहायता समूह, मुख्यमंत्री सुमंगला योजना के लाभार्थियों को सब के सामने लाकर बताने का प्रयास हुआ है कि सरकार ने जमीनी स्तर पर महिलाओं के लिए क्या किया। महिलाओं का यह समूह बसपा के वेट बैंक में भी जरूर सेंध लगाएगा।