गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार पांच आरोपित कोर्ट में पेश, पुलिस ने की चार दिन रिमांड की मांग

 

दि्ल्ली पुलिस ने गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को ब्लैकमेल करने के आरोप में पांच को गिरफ्तार किया है।
दिल्ली पुलिस ने लखीमपुर खीरी से सांसद और गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को ब्लैकमेल करने के मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपितों को दिल्ली पुलिस ने चार दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ करने की बात कही है।

नई दिल्ली  ,surender aggarwal। दिल्ली पुलिस ने गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी को ब्लैकमेल करने के आरोप में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। इन चारों को कोर्ट में पेश करके पुलिस ने चार दिन की रिमांड की मांग की है। पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने इन पांच लोगों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि इन पांचों से फिलहाल इस मामले में पूछताछ की जा रही है। इनके नाम अमित काला, अश्विन, अमित, संदीप और निशांत हैं।

मालूम हो कि लखीमपुर खीरी में किसानों के जुलूस में गाड़ी चलाकर हत्या करने का उनके बेटे पर आरोप लगा था। उनके बेटे का नाम आशीष मिश्रा है। वो लखीमपुर खीरी कांड का मुख्य अभियुक्त है। किसानों के आंदोलन के दौरान लखीमपुर खीरी में हुए इस हादसे से काफी हंगामा हुआ था, इस घटना का एक वीडियो काफी वायरल हुआ था। वीडियो सामने आने के बाद किसान नेता अजय मिश्र को बर्खास्त किए जाने की मांग कर रहे थे मगर पार्टी ने फिलहाल उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया है।

17 दिसंबर को इस बारे में अजय मिश्र टेनी ने दिल्ली पुलिस मुख्यालय में पुलिस आयुक्त से शिकायत की थी। जिसके बाद सीपी की निगरानी में जांच नार्थ एवेन्यू थाना पुलिस ने जांच शुरू की थी। जिन 5 युवकों को गिरफ्तार किया गया है वे बीपीओ में काम करते हैं। पुलिस के अनुसार अजय मिश्र टेनी के कर्मचारियों से शिकायत मिली कि उन्हें उस घटना का वीडियो होने और कुछ अन्य सबूत होने के एवज में पैसे के लिए फोन आए हैं। ऐसी शिकायत मिलने के बाद नई दिल्ली जिले में एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। दिल्ली पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए पांच लोगों में चार नोएडा के हैं और एक दिल्ली का है। इन्हीं पांचों को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल, पुलिस आरोपितों को चार दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। इसके लिए ने अनुमति मांगी है।

दिल्ली पुलिस के सूत्रों का कहना है गृह राज्यमंत्री के पीए को ब्लैकमेलिंग के कॉल आए थे। कॉलर ने कहा था उसके पास लखीमपुर का वीडियो है इसको लेकर ब्लैकमेल कर रहे थे। अजय मिश्र के पीए को ये कॉल इंटरनेट कॉलिंग से किए जा रहे थे। गिरफ्तार पांचों आरोपित गृह अजय मिश्रा टेनी को लखीमपुर खीरी मामले में उनके खिलाफ कुछ वीडियो और सबूत होने का दावा कर करोड़ों रूपये की डिमांड कर रहे थे।