दिल्ली पुलिस महकमे में भी कोरोना का कहर, 1000 से अधिक कर्मी पाए गए संक्रमित, और अधिक एहतियात के निर्देश जारी

 

दिल्ली पुलिस में जनसंपर्क अधिकारी और एडिशनल कमिश्नर चिन्मय बिस्वाल सहित 300 से ज़्यादा कर्मी पॉजिटिव आए हैं।

कोरोना का कहर दिल्ली पुलिस के अधिकारियों और जवानों पर भी बरपा है। दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी और एडिशनल कमिश्नर चिन्मय बिस्वाल सहित दिल्ली पुलिस के लगभग 1000 कर्मी कोविड-19 पॉजिटिव आए हैं। सभी पॉजिटिव पुलिस कर्मी क्वारंटीन में हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में दिनोंदिन इजाफा हो रहा है। अब आम लोगों के साथ दिल्ली पुलिस और अन्य महकमों के लोग भी भारी संख्या में इसके शिकार हो रहे हैं। कोरोना का कहर दिल्ली पुलिस के अधिकारियों और जवानों पर भी बरपा है। दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी और एडिशनल कमिश्नर चिन्मय बिस्वाल सहित दिल्ली पुलिस के लगभग 1000 कर्मी कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। सभी पॉजिटिव पुलिस कर्मी क्वारंटीन में हैं।

दिल्ली पुलिस में जनसंपर्क अधिकारी और एडिशनल कमिश्नर चिन्मय बिस्वाल के अनुसार कोरोना फैलने की सूचना के साथ ही सभी को नियमों का पालन करने, मास्क लगाने और अन्य चीजों के लिए निर्देश जारी कर दिए गए थे। मगर उसके बाद भी पुलिस टीम के लोग संक्रमण का शिकार हुए हैं। अब इन सभी का इलाज किया जा रहा है। बाकी पुलिसकर्मियों को भी एहतियात बरतने के निर्देश दे दिए गए हैं जिससे वो संक्रमित होने से बच सकें।

राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन (आरडब्ल्यूए) के पदाधिकारी लोगों को सतर्क कर रहे हैं। इसी के साथ ही वे टीकाकरण करवाने के लिए लोगों को प्रेरित करने में भी जुटे हुए हैं। कालोनी में बिना मास्क के आने वाले लोगों को रोक-टोक रहे हैं। कोटला फिरोजशाह विक्रम नगर रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के सचिव एम एल वर्मा ने बताया कि कालोनी के प्रवेश द्वार पर ही सुरक्षा कर्मी तैनात हैं। जो भी व्यक्ति कालोनी में आ रहा है, पहले उसके हाथों को सैनिटाइज किया जा रहा है। वर्मा ने बताया कि बिना मास्क के आने वाले लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। डिलीवरी वालों को भी ठीक तरह से देखा जा रहा है। कालोनी में आने वाले हर व्यक्ति की और वह किसके पास जा रहा है, उसकी जानकारी और नाम दर्ज किया जा रहा है। इसी के साथ लोगों को बेवजह घरों से बाहर निकलने के लिए मना कर रहे हैं।

इसी तरह बुजुर्गो को भी सैर करने के लिए रोक जा रहा है, जिससे सभी लोग सुरक्षित रहें। कालोनी में अभी सब लोग सुरक्षित हैं। किसी तरह की परेशानी नहीं है। लोगों को बता दिया गया है कि अगर कोई शिकायत होती है तो आरडब्ल्यूए हर मदद के लिए तैयार है। वे कहते हैं कि यह समय कठिन जरूर है, लेकिन हम लोगों की सुरक्षा के लिए ऐसा करना अनिवार्य है। लोगों को भी प्रशासन का साथ देना जरूरी है। कोरोना से जारी लड़ाई को मिलकर ही हराया जा सकता है। यह तभी संभव होगा जब सब लोग जागरूक होंगे। कालोनी में हर किसी को जागरूक करने का लगातार प्रयास जारी है, जिससे किसी तरह की चूक न हो।