दिल्ली में सोने की तस्करी का रैकेट चालाने वाला 10 माह बाद गिरफ्तार

 

दिल्ली में सोने की तस्करी का रैकेट चालाने वाला 10 माह बाद गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की नारकोटिक्स सेल द्वारा 7.9 किलो सोना की तस्करी के मामले में फरार मुख्य आरोपित मुहम्मद शकील को मामले के 10 माह बाद गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित मटिया महल इलाके का रहने वाला है।

नई दिल्ली, संवाददाता। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की नारकोटिक्स सेल द्वारा 7.9 किलो सोना की तस्करी के मामले में फरार मुख्य आरोपित मुहम्मद शकील को मामले के 10 माह बाद गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित मटिया महल इलाके का रहने वाला है। आरोपित ने गत वर्ष 20 फरवरी को दुबई से आटो पार्ट में छिपाकर सोना भारत भेजा। जिसे इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय (आइजीआइ) एयरपोर्ट पर पकड़ा गया था। मामले में दो आरोपित मटिया महल निवासी सैयद सलमान और सुंदर नगरी निवासी शाजेब को गिरफ्तार किए गए थे। दोनों से पूछताछ में पता चला कि यह सोना मुहम्मद शकील का था।

अतिरिक्त आयुक्त चिन्मय बिश्वाल के मुताबिक, सीमा शुल्क विभाग द्वारा जांच में पाया गया कि उक्त विदेशी मूल के सोने का मालिक मुहम्मद शकील है, जो दो अन्य साथियों मुहम्मद इरफान और मुहम्मद काशिफ के साथ मिलकर सोना तस्करी का रैकेट चलाता है। इंटेलिजेंस ब्यूरो की मदद से पता चला कि मुहम्मद काशिफ गत वर्ष 31 अगस्त को एयर इंडिया की उड़ान से दुबई से भारत आया था।

ऐसे में मुहम्मद इरफान को एक अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में पता चला कि आरोपित मुहम्मद शकील भी भारत में ही है। ऐसे में आरोपित मुहम्मद शकील को जांच में शामिल होने के लिए नोटिस दिए गए, लेकिन वह जांच में शामिल नहीं हुआ। आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए सीमा शुल्क विभाग द्वारा दिल्ली पुलिस से अनुरोध किया गया।

आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए इंस्पेक्टर हरिवंश सिंह, राकेश दुहन, एसआइ विशन कुमार समेत अन्य पुलिस कर्मियों की टीम बनाई गई। टीम ने शुक्रवार को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के पास से आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। मामले की जांच के लिए आरोपित को पुलिस ने सीमा शुल्क विभाग को सौंप दिया है।