पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में भारी बारिश से मरने वालों की संख्या हुई 18, राहत व बचाव अभियान जारी

 

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में भारी बारिश से मरने वालों की संख्या हुई 18

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में भारी बारिश से संबंधित घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर 18 हो गई। प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया है। इससे पहले भी उत्तरी पाकिस्तान के मुरी में भारी बर्फबारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 23 हो गई थी।

पेशावर एएनआइ। पाकिस्तान में प्राकृतिक आपदा की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा (केपी) में भारी बारिश से संबंधित घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर 18 हो गई। आपको बता दें कि 3 से 10 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी के दौरान पाकिस्तान के केपी के विभिन्न हिस्सों में छत और दीवार गिरने के साथ-साथ भूस्खलन की घटनाओं में लगभग 46 लोग घायल हुए थे। न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार प्रांतीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (पीडीएमए) ने जानकारी देते हुए बताया कि 3 से 10 जनवरी तक केपी के विभिन्न जिलों में 109 से अधिक घर क्षतिग्रस्त हुए थे।पाकिस्तान के केपी में चारसद्दा, करक, खैबर, मोहमंद, नौशेरा और ऊपरी दीर क्षेत्रों में प्रभावितों के बीच राहत सामग्री वितरित की गई है। प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया है। पंजाब प्रांत के मुरी शहर में आवश्यक बचाव कार्य और केपी प्रांत में हाल ही में आई बाढ़ के साथ पाकिस्तान के आपदा प्रबंधन उपायों का परीक्षण भी किया जा रहा है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी उत्तरी पाकिस्तान में भारी बर्फबारी के कारण कारों में फंसे 21 पर्यटकों की मौत हो गई थी। राजधानी इस्लामाबाद से 64 किलोमीटर दूर पूर्वोत्तर में स्थित मुरी को सरकार ने आपदा क्षेत्र घोषित किया है। हजारों की संख्या में पर्यटक बर्फबारी का मजा लेने के लिए हिल स्टेशन मुरी पहुंचे थे। पर्यटकों की संख्या पर काबू पाने के लिए शुक्रवार को सरकार ने हिल स्टेशन जाने वाले सभी मार्गो को बंद कर दिया। बाद में मुरी में भारी बर्फबारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 23 हो गई थी। स्थानीय मीडिया के अनुसार सुरक्षा बलों ने एक हजार से अधिक पर्यटकों को प्रभावित क्षेत्र से सुरक्षित बाहर निकाला है। प्राकृतिक आपदाओं के चलते सरकार की ओर से लोगों की सुरक्षा के लिए पहाड़ी इलाकों में लोगों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है।