प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव बोले- हमने अखिलेश को अपना नेता मान लिया है, 2022 में बनाएंगे सरकार

 

शिवपाल सिंह यादव ने बताया कि हमारी पार्टी का अखिलेश यादव के साथ गठबंधन हो गया

 शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि हमारी पार्टी का समाजवादी पार्टी से गठबंधन हो गया है। हम मिलकर चुनाव लड़ेंगे और उत्तर प्रदेश में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाकर अखिलेश यादव को फिर से मुख्यमंत्री बनाएंगे।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का गठन करने वाले शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को अपना नेता मान लिया है। लखनऊ में शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि हमारी पार्टी का समाजवादी पार्टी से गठबंधन हो गया है। हम मिलकर चुनाव लड़ेंगे और उत्तर प्रदेश में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाकर अखिलेश यादव को फिर से मुख्यमंत्री बनाएंगे।

उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह यादव तथा अखिलेश यादव की सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव ने अपनी अलग पार्टी बना ली थी। इसके बाद 2019 में फिरोजाबाद से लोकसभा का चुनाव भी लड़े। अब शिवपाल सिंह यादव समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में मैदान में उतरेंगे। निर्वाचन आयोग ने उनकी पार्टी को स्टूल चुनाव चिन्ह आवंटित किया है।

शिवपाल सिंह यादव ने बताया कि हमारी पार्टी का अखिलेश यादव के साथ गठबंधन हो गया है। अब हम तो समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। हमारा तो अब एक ही लक्ष्य है। हम 2022 में अखिलेश यादव को एक बार फिर से उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने के प्रयास में लगे हैं। शिवपाल सिंह यादव ने दावा किया है कि उनके पार्टी से गठबंधन के बाद समाजवादी पार्टी 2022 के विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत से जीतेगी।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि हमने अखिलेश यादव को अपना नेता मान लिया है। हम 2022 में अखिलेश यादव को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाएंगे। अपने चुनाव लडऩे के बारे में उन्होंने कहा कि यह तो अखिलेश यादव तय करेंगे। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों के बारे में उन्होंने बताया कि हमने अपनी पार्टी के प्रत्याशियों की सूची अखिलेश यादव को दे दी है। इसके साथ ही हमने अखिलेश यादव को सुझाव भी दे दिए हैं। अखिलेश तय करेंगे कि कौन कहां से लड़ेगा। शिवपाल सिंह यादव ने मुलायम सिंह यादव के बारे में कहा कि नेताजी का हमेशा सम्मान रहा है। वह जो कहेंगे वही होगा। हमने तो अखिलेश यादव को अपना नेता चुन लिया है।