इंटरनेट मीडिया पर दोस्ती, फिर प्यार उसके बाद मामला पहुंचा थाने, पढ़िए 21 साल की युवती और 28 साल के युवक की कहानी

 

इंटरनेट मीडिया इंस्टाग्राम के जरिए युवती से मोहसिन की एक साल पहले दोस्ती हुई थी।

21 साल की युवती ने दरियागंज थाने में 28 साल के मोहसिन के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। इंटरनेट मीडिया इंस्टाग्राम के जरिए युवती से मोहसिन की एक साल पहले दोस्ती हुई थी। दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गया।

नई दिल्ली, संवाददाता। 21 साल की युवती ने दरियागंज थाने में 28 साल के मोहसिन के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। इंटरनेट मीडिया इंस्टाग्राम के जरिए युवती से मोहसिन की एक साल पहले दोस्ती हुई थी। दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गया। युवती जब गर्भवती हो गई तब उसने युवती से दिसंबर में शादी कर ली और कुछ समय बाद उसका गर्भपात भी करा दिया और बाद में उसे छोड़ भी दिया। पुलिस ने मोहसिन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पुलिस के मुताबिक दोनों दरियागंज के ही रहने वाले हैं। युवती दरियागंज में अपने परिवार के साथ रहकर पढाई कर रही है। मोहसिन से इंस्टाग्राम के जरिए युवती की दोस्ती हुई थी। वह किसी कंपनी में काम करता है। प्यार होने पर ब दोनों में अवैध रिश्ते बन गए तब युवती गर्भवती हो गई। शादी करने के लिए दबाव बनाने पर मुकदमे से बचने के लिए बीते दिसंबर में मोहसिन ने युवती से शादी कर ली और कुछ समय के लिए दोनों ने किराए पर घर ले लिया।

बाद में आरोपित ने धोखे से युवती का गर्भपात करवा दिया। दो हफ्ते पहले आरोपित ने किराए का घर छोड़कर युवती को छोड़ दिया। इसके बाद पीडि़ता ने दरियागंज थाने में आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करवा दिया।

उधर दक्षिणी दिल्ली में वकील की गिरफ्तारी के दौरान उसका पर्स चुराने के मामले में सीआर पार्क थाना पुलिस ने नई दिल्ली जिले के क्यूआरटी चालक व उसके साथी को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने एक मामले में वकील की गिरफ्तारी के दौरान उसके जब्त पर्स को चोरी कर लिया था। आरोपितों ने पर्स में रखे 15 हजार रुपये और कार्ड के जरिये खाते से 80 हजार रुपये निकाल लिए थे। पुलिस ने पीडि़त की शिकायत के बाद क्यूआरटी ड्राइवर साहिल और अभिषेक उर्फ मोंटी को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार पीडि़त वकील ने सीआर पार्क थाने में गिरफ्तारी के दौरान जब्त पर्स की चोरी की शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने शिकायतकर्ता की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की। जांच में पता चला कि चोरी हुए कार्ड से अवैध लेनदेन किए गए हैं। कार्ड से लेनदेन का सारा डिटेल पता किया गया।

चोरी हुए कार्ड के माध्यम से किए गए लेनदेन के आधार पर तकनीकी निगरानी की मदद से अभिषेक उर्फ मोंटी और साहिल को गिरफ्तार कर लिया गया। जांच में पता चला कि साहिल नई दिल्ली जिले में दिल्ली पुलिस के क्यूआरटी पर निजी ड्राइवर है। साहिल ने ही शिकायतकर्ता का पर्स चोरी किया था और अपने साथी के साथ कार्ड से अवैध लेनदेन को अंजाम दिया था।