बंगाल में सरकारी अस्पताल के 22 चिकित्सक हुए कोरोना संक्रमित, डाक्टरों के संक्रमण के कारण अस्पताल ने आपरेशन किया स्थगित

 

बंगाल में सरकारी अस्पताल के 22 चिकित्सक हुए कोरोना संक्रमित

बंगाल में सरकारी अस्पताल के 22 चिकित्सक हुए कोरोना संक्रमितडाक्टरों के संक्रमण के कारण अस्पताल ने आपरेशन को कर दिया है स्थगित आपातकालीन सेवाओं को चालू रखने को अन्य अस्पतालों के चिकित्सकों की ली जा रही है मदद

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल में कोरोना का संक्रमण आम लोगों को तो अपनी चपेट में ले ही रहा है, साथ ही महामारी से बचाव के लिए वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके चिकित्सक भी नहीं बच पा रहे हैं। एक के बाद एक सरकारी अस्पताल के डाक्टर कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। एनआरएस अस्पताल के बाद चित्तरंजन सेवा शिशु सदन अस्पताल के 22 डाक्टर कोरोना से संक्रमित हो गए हैं। इसके अतिरिक्त दो सहायक अस्पताल अधीक्षक हाइलाइटर भी कोरोना से संक्रमित हो गए हैं। डाक्टरों के संक्रमण के कारण अस्पताल ने आपरेशन को स्थगित कर दिया है। आपातकालीन सेवाओं को चालू रखने के लिए अन्य अस्पतालों के चिकित्सकों की मदद ली जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार पीड़ित डाक्टरों ने बुखार के साथ-साथ शरीर में असहनीय दर्द की शिकायत की है। बता दें कि शनिवार को कोलकाता नेशनल मेडिकल कालेज के अध्यक्ष अजय राय एक बार फिर कोरोना की चपेट में आए थे। उन्होंने वैक्सीन की दोनों डोज ले ली है, बावजूद इसके सर्दी खांसी और बुखार से पीड़ित थे।जांच करने पर अब उनकी रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव आई थी। फूल बागान के एक निजी अस्पताल के चिकित्सक श्यामाशीष बनर्जी भी कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं।

आज आंशिक लाकडाउन का हो सकता है एलान

बंगाल में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार आंशिक लाकडाउन की तैयारी में है। राज्य स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया है कि आगामी तीन जनवरी से राजधानी कोलकाता समेत पूरे राज्य में आंशिक लाकडाउन की तैयारियां की जा रही हैं।रविवार को दोपहर तीन बजे राज्य के मुख्य सचिव एचके द्विवेदी ने प्रेस कांफ्रेस बुलाई है। इसमें वह आंशिक लाकडाउन का ऐलान कर सकते हैं। बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कई कार्यक्रम रद कर दिए गए हैं।

बंगाल में तेजी से बढ़ रहा है संक्रमण

बंगाल में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है।कोलकाता संक्रमण के मामले में देश भर में शीर्ष पर पहुंच गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से 25 दिसंबर से 31 दिसंबर 2021 तक के आंकड़े जारी किए गए हैं। इसमें देखा जा रहा है कि कोलकाता में कोविड पाजिटिविटी रेट 23.42 प्रतिशत हो गया है। वहीं यह अचानक 26.9 प्रतिशत पर आ गया है। साथ ही हावड़ा में भी अचानक कोविड पाजिटिविटी रेट 17.5 प्रतिशत हो गया है। पश्चिम बर्द्धमान में कोविड पाजिटिविटी रेट 11 प्रतिशत पहुंच गई. कोलकाता से सटे हावड़ा में संक्रमण दर 11 प्रतिशत है।